संसद में उठा हैदराबाद मामला, लोकसभा में 12 बजे होगी चर्चा

विशेष प्रतिनिधि

हैदराबाद में महिला पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसकी निर्मम हत्या कर दी गई। इस घटना को लेकर पूरे देश में उबाल है। हैदराबाद मामले पर लोकसभा में 12 बजे चर्चा होगी। वहीं राज्यसभा में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने इस मामले उठाया। उन्होंने राज्य सरकार से इससे सख्ती से निपटने के लिए कहा। वहीं लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि देश में जो घटनाएं घट रही हैं उनपर संसद भी चिंतित है।कांग्रेस सासंद अमी याज्निक ने राज्यसभा में हैदराबाद की घटना को लेकर कहा, ‘मैं सभी प्रणालियों, न्यायपालिका, विधायी, कार्यकारी और अन्य प्रणालियों से अनुरोध करती हूं कि वे एक साथ आएं ताकि सामाजिक सुधार हो सके। इसे आपातकालीन आधार पर किया जाना चाहिए।’कोई भी सरकार या नेता नहीं चाहता कि उनके राज्य में इस तरह की घटना घटे। यह समस्या केवल कानून बनाने से हल नहीं होगी। ऐसे कृत्यों को जड़ से खत्म करने के लिए, ऐसे अपराधों के खिलाफ एक साथ खड़े होने की जरूरत है।
लोकसभा में हैदराबाद की पशु चिकित्सक के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले को उठाया गया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा, ‘देश में जो घटनाएं घट रही हैं उस पर संसद भी चिंतित है। मैंने प्रश्नकाल के बाद इस पर चर्चा की अनुमति दी है।’
लोकसभा में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने रविवार को कहा था कि अमित शाह जी, नरेंद्र मोदी जी आप खुद घुसपैठिए हैं। घर आपका गुजरात आ गए दिल्ली, आप खुद प्रवासी हैं। इस पर संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, ‘उन्हें बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए।’
सामूहिक दुष्कर्म की घटना के सामने आने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली सहित अन्य जगहों पर मार्च निकाला था। अब सोमवार को वह संसद के बाहर इस घटना और महिलाओं की असुरक्षा को लेकर विरोध प्रदर्शन करेगी।
राज्यमंत्री संजीव बलियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। वह हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड के मुद्दे को प्रधानमंत्री के सामने उठाएंगे। इस मामले पर अभी तक प्रधानमंत्री ने कोई टिप्पणी नहीं की है।
पशु चिकित्सक के साथ हुई दरिंदगी की जांच कर रही पुलिस आज अदालत में चारों आरोपियों से आगे की पूछताछ के लिए याचिका दायर कर हिरासत मांग सकती है। चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा को शुक्रवार को उनके घर से गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल आरोपी 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं।तेलंगाना के मुऱख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने पुलिस को सामूहिक दुष्कर्म की जांच जल्दी पूरी करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने घटना के आरोपियों को सख्त सजा दिलाने और पीड़ित परिवार को न्याया दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने के आदेश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *