संसद में भावुक हुईं विजिला सत्यानंद , बोली- बेटियों के लिए सुरक्षित नहीं भारत

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली । हैदराबाद में महिला डॉक्टर से हुई हैवानियत ने पूरे देश को झकझोर दिया है. सोमवार को यह मुद्दा संसद के दोनों सदनों में उठा. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला और राज्यसभा में सभापति वैंकैया नायडू ने भी महिलाओं के खिलाफ अपराध पर चिंता जताई. संसद के दोनों ही सदनों में गैंगरेप मुद्दे पर चर्चा की गई. इस दौरान एआईएडीएमके की एक सांसद अपनी बात रखते वक्त भावुक हो गईं और कहा कि भारत बेटियों के लिए सुरक्षित नहीं है।
दरअसल, एआईएडीएमके की विजिला सत्यानंद चर्चा के दौरान भावुक हो गईं. उन्होंने कहा कि बेटियों के लिए भारत सुरक्षित नहीं रहा. उन्होंने अपराधियों के खिलाफ कठोर सजा की मांग करते हुए कहा, महात्मा गांधी ने कहा था कि जब आधी रात को महिलाएं बिना किसी डर के आ जा सकेंगी, तब ही वास्तविक स्वतंत्रता होगी. विजिला ने नशीली दवाओं को इस तरह की घटनाओं का एक कारण बताते हुए इन पर रोक लगाने, बलात्कार के मामलों की शीघ्र सुनवाई करने, दोषी को मृत्युदंड देने और सजा पर तामील की भी मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *