साध्वी प्रज्ञा को मिला प्रदेश उपाध्यक्ष का साथ, रामेश्वर शर्मा ने बताया ‘शेरनी’

विशेष प्रतिनिधि

नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी बीजेपी की सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर विवादों में हैं. सदन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथुराम गोड्से को देशभक्त बता विवादों में आईं साध्वी प्रज्ञा बीजेपी में अलग-थलग सी पड़ती नजर आ रही थीं, लेकिन अब उन्हें मध्य प्रदेश में पार्टी नेता का साथ मिला है. बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष और विधायक रामेश्वर शर्मा ने साध्वी प्रज्ञा की तारीफ करते हुए उन्हें शेरनी कहा है|
बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी के साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से माफी मांगने पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे. उन्होंने कहा कि साध्वी हिंदू और भगवा शेरनी हैं. रामेश्वर शर्मा ने कहा कि दांगीजी के शब्द गुस्से में नहीं निकले थे, बल्कि सोची समझी रणनीति के तहत थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बार-बार अपमानित करना चाहते हैं. पहले उन्हें गैरकानूनी कार्रवाई करके जेल में रखा. शर्मा ने कहा कि प्रज्ञा भारत की वो शेरनी है, वो साध्वी है, जिसने चुनौती दी और चुनौती देकर चुनाव में दिग्विजय सिंह से दो-दो हाथ किए|
उन्होंने कहा कि प्रज्ञा से दिग्विजय सिंह को मुंह की खानी पड़ी. कांग्रेस के विधायक ने कह दिया कि हम साध्वी को जला देंगे, लेकिन जब शेरनी दहाड़ी तो दांगी साहब को पीछे हटना पड़ा. आगे बात करते हुए रामेश्वर शर्मा ने चेतावनी देते हुए कहा कि कांग्रेसी मित्रों से यह कहना चाहता हूं कि भारत की बेटी शेरनी है, दुर्गा है, काली है, सरस्वती है. उन्होंने कहा कि चाहोगे तो विद्या देगी लेकिन अपराधी बनोगे तो दुर्गा बनकर संघर्ष करेगी. इसलिए कांग्रेसियों अब नैना साहनी तंदूर कांड करना बंद करो. रामेश्वर शर्मा ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर को मामूली जानकर जलाने की धमकी मत देना. यह भारत की हिंदू और भगवा शेरनी है. ये तुम्हे मुंहतोड़ जवाब भी देगी और तुम्हारे द्वार पर भी आएगी|
लोकसभा में गोडसे को देशभक्त बताने पर प्रज्ञा सिंह ठाकुर की हर तरफ आलोचना हुई. यहां तक की खुद बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व को सामने आकर कहना पड़ा कि प्रज्ञा ठाकुर के बयान से पार्टी इत्तेफाक नहीं रखती. इसी दौरान देशभर में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ प्रदर्शन हुए. ऐसे ही एक प्रदर्शन के दौरान ब्यावरा से कांग्रेस विधायक ने कहा था कि साध्वी प्रज्ञा ब्यावरा आई तो उनको पुतले के साथ जला देंगे. इस पर पलटवार करते हुए प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा है कि वो 8 दिसंबर को दांगी के घर जाएंगी. हालांकि सोमवार देर शाम गोवर्धन दांगी ने अपने बयान के लिए माफी मांग ली|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *