Fri. Feb 26th, 2021

नई दिल्ली । भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अनुसार विजय हजारे ट्राफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट की शुरुआत 20 फरवरी से होगी और ये मुकाबले 14 मार्च तक चलेंगे। इसे जैव सुरक्षित (बायो बबल) के माहौल में पांच शहरों के साथ ही तमिलनाडु में खेला जाएगा। इस टूर्नामेंट के लिए खिलाड़ियों को 13 फरवरी को बायो बबल में आना होगा जिसके बाद उन्हें तीन बार कोविड-19 की जांच से गुजरना होगा। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कार्यक्रम की घोषणा की जिसमें में छह स्थानों में से पांच का जिक्र है। ये पांच शहर सूरत, इंदौर, बेंगलुरु, कोलकाता, जयपुर है जबकि प्लेट ग्रुप की आठ टीमें तमिलनाडु के विभिन्न मैदानों में अपने मैच खेलेंगी।
बीसीसीआई प्रोटोकॉल के अनुसार खिलाड़ियों को अपने बायो-बबल में शामिल होने से पहले तीन आरटी-पीसीआर परीक्षण से गुजरना होगा। उन्हें सात मार्च से होने वाले नॉक-आउट चरणों (प्री क्वार्टर फाइनल) के शुरू होने से पहले भी ऐसा करना होगा। बीसीसीआई की अधिसूचना के अनुसार, एलीट ग्रुप ए में गुजरात, चंडीगढ़, हैदराबाद, त्रिपुरा, बड़ौदा, गोवा शामिल होंगे। इनके मैच सूरत में खेले जाएंगे। ग्रुप बी में तमिलनाडु, पंजाब, झारखंड, मध्य प्रदेश, विदर्भ, आंध्र प्रदेश शामिल हैं। इसके मैच इंदौर में खेले जाएंगे। ग्रुप सी के मैच बेंगलुरू में आयोजित किए जाएंगे, जिसमें मेजबान कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, केरल, ओडिशा, रेलवे और बिहार छह टीमें होंगी। ग्रुप डी में दिल्ली, मुंबई, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान और पुडुचेरी की टीमें होंगी और इसके मैच जयपुर में निर्धारित हैं। ग्रुप ई के मैच कोलकाता में खेले जाएंगे जिसमें मेजबान बंगाल के साथ सेना, जम्मू और कश्मीर, सौराष्ट्र, हरियाणा और चंडीगढ़ की टीमें है। प्लेट ग्रुप मैच तमिलनाडु के विभिन्न मैदानों में आयोजित किए जाएंगें। इसमें उत्तराखंड, असम, नागालैंड, मेघालय, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम और सिक्किम की टीमें हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *