Sat. Feb 27th, 2021

नई दिल्ली । स्वस्थ शरीर के लिए पौष्टिक भोजन की सिफारिश डॉक्टर अक्सर करते हैं। भोजन की थाली में उड़द की दाल यानी छिलके वाली काली दाल का अपना ही महत्व है। यह स्‍वाद में बेहद लजीज होने के साथ-साथ सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। इस दाल को आयुर्वेदिक दवाओं के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। इसका आयुर्वेदिक नाम ‘माशा’ है। इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, विटामिन बी, आयरन, फोलिक एसिड, कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम भरपूर मात्रा में मिलते हैं। यही वजह है कि उड़द की दाल गर्भवती महिलाओं के लिए भी एक हेल्थ पैकेज की तरह काम करती है। डायरिया, कब्ज, पेट में ऐंठन या सूजन की परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए अपने खाने में उड़द की दाल को जरूर शामिल करें। उड़द की दाल बवासीर और कॉलिक डिसऑर्डर की समस्याओं को दूर करने और लिवर को हेल्‍दी बनाने में भी कारगर है। फाइबर से भरपूर यह दाल घुलनशील और अघुलनशील, दोनों ही तरह के डाइजेशन को ठीक रखती है। उड़द की दाल में उच्च मात्रा में फाइबर, मैग्नीशियम और पोटैशियम होते हैं जो हमारे हार्ट की हेल्थ बनाए रखने में बहुत फायदेमंद हैं। यह कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी ठीक रखता है और एथेरोस्क्लेरोसिस को कंट्रोल में रखता है जिस वजह से हमारा कार्डियोवस्कुलर सिस्टम हेल्‍दी रहता है। इसमें मौजूद आयरन लाल रक्त कोशिकाओं के बनने में मदद करता है जो आपके शरीर के सभी अंगों में ऑक्सीजन ले जाने के लिए जिम्मेदार है। ऐसे में उड़द की दाल खाने से बॉडी में आयरन के साथ-साथ एनर्जी भी बनी रहती है। यह हड्डियों के मिनरल डेन्सिटी को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाती है। नियमित रूप से उड़द की दाल का सेवन करने से हड्डी से संबंधित समस्याओं को रोका जा सकता है।
उड़द की दाल हमारे नर्वस सिस्‍टम के लिए भी अच्‍छी होती है। हमारे ब्रेन को भी यह दाल हेल्‍दी रखती है। बता दें कि लकवा समेत कई बीमारियों को ठीक करने के लिए आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल किया जाता है। यह आपके तनाव को कम करने में भी मदद करती है। इस दाल में फाइबर भरपूर मात्रा में होता है जो शुगर और ग्लूकोज के लेवल को नॉर्मल बनाए रखने में मदद करता है जिस वजह से आपकी डायबिटीज भी कंट्रोल में रहती है। अगर आप दर्द और सूजन से तुरंत राहत पाना चाहते हैं तो उड़द की दाल का पेस्ट दर्द वाली जगह पर लगाएं। इसके अलावा यह किसी भी तरह की त्वचा की जलन को कम करने, टैन और सनबर्न से छुटकारा दिलाने में भी मदद करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *