Fri. Feb 26th, 2021

मुंबई । सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के भारतीय न्यायपालिका के बारे में कडे बयान पार
वरिष्ठ राकंपा नेता शरद पवार ने प्रतिक्रिया दी है। पवार ने कहा सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश का बयान चौंकाने वाला है, उन्होने न्याय प्रणाली के बारे में अपने तरीके से सच बताने की कोशिश की, हालांकि, मुझे इसमें कोई संदेह नहीं है कि उनका बयान सभी को चिंतित करने वाला है।
ज्ञात रहे कि पूर्व मुख्य न्यायाधीश और राज्यसभा सांसद रंजन गोगोई ने कहा था, ” भारत की न्याय प्रणाली इस कदर जर्जर हो चुकी है कि लोग अदालत जाकर पछताने लगते हैं। अब अदालतें आम आम आदमी की पहुंच से बाहर हो गई हैं और सिर्फ धनी और कॉर्पोरेट वर्ल्ड के लोग ही कोर्ट का रुख करना चाहते हैं।” उन्होंने न्यायपालिका के सदस्यों से हालात बदलने की दिशा में कदम उठाने की अपील करते हुए कहा कि मौजूदा प्रणाली कई कारणों से काम नहीं कर पा रही है, इसलिए जजों की नियुक्ति और उनकी ट्रेनिंग के तरीके में तुरंत बदलाव लाने की जरूरत है। जस्टिस गोगोई ने जजों की नियुक्ति में लेट-लतीफी को भी इस समस्या का एक बड़ा कारण करार दिया।
राजनीतिक नेता अब इस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, शिवसेना सांसद संजय राउत और राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ने इस पर प्रतिक्रिया दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *