Mon. May 17th, 2021

भारत दुनिया का तीसरा देश हुआ जहां सबसे ज्यादा मौतें
लगातार 7वें दिन 3 हजार ने जान गंवाई

नई दिल्ली। देश में कोरोना मरीजों की संख्या 1 करोड़ 99 लाख 19 हजार 715 हो गई है। मतलब आज ये आंकड़ा 2 करोड़ के पार हो जाएगा। भारत ऐसा दूसरा देश होगा जहां दो करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके होंगे। अमेरिका में सबसे ज्यादा 3.38 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं।
पिछले दो दिनों से नए मरीजों के आंकड़ों में गिरावट दर्ज हो रही है। रविवार को देश में 3 लाख 69 हजार 942 मरीज सामने आए हैं। 2 लाख 99 हजार 800 लोग ठीक हो गए। शुक्रवार को देश में रिकॉर्ड 4 लाख 2 हजार 14 लोग संक्रमित पाए गए थे, जो शनिवार को घटकर 3 लाख 92 हजार 459 हो गए।
भारत दुनिया का तीसरा देश जहां सबसे ज्यादा मौतें
सबसे ज्यादा मौतों वाले देशों में भारत मैक्सिको को पीछे छोड़कर तीसरे नंबर पर आ गया है। यहां अब तक 2 लाख 18 हजार 945 लोग दम तोड़ चुके हैं। इस मामले में अमेरिका पहले नंबर पर है। यहां 5.92 लाख और ब्राजील में 4.07 लाख मौतें हो चुकी हैं। चौथे नंबर पर पहुंचे मैक्सिको में अब तक 2.17 लाख मौतें दर्ज की गई हैं।
महाराष्ट्र, दिल्ली और मप्र में नए केस घटे
स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर देश में कोरोना की स्थिति पर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देश में 12 राज्य ऐसे हैं, जहां एक लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। सात राज्यों में 50 हजार से एक लाख के बीच और 17 राज्यों में 50 हजार से भी कम एक्टिव केस है। देश में अब तक 81.77 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना से डेथ रेट 1 प्रतिशत के आसपास है। दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में केस कम हो रहे हैं। महाराष्ट्र में 12 जिलों में नए केसों में कमी आई है। यह स्थिति बनी रहे इसके लिए जरूरी है कि राज्य और जिले लेवल पर ध्यान दिया जाए। हमें अभी पूरी एहतियात बरतना है।
देश में रिकवरी रेट बढ़ा
लव अग्रवाल ने कहा कि देश में एक और पॉजिटिव ट्रेंड है। रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है। 2 मई को यह 78 प्रतिशत था। 3 मई को 82 प्रतिशत हो गया। इंडस्ट्री की ऑक्सीजन को मेडिकल परपस से इस्तेमाल करने का प्लान कर रहे हैं। इस बारे में हम स्टेट से भी बात कर रहे हैं। अब देश में 1050 में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट पर काम चल रहा है। ऑक्सीजन प्लांट के पास ही कोविड सेंटर बनाए जाएंगे। केस कम कैसे करें, इस पर कुछ फैसले ले रहे हैं। जहां केस कम आ रहे हैं वहां हमारा कंटेनमेंट से जुड़ा काम चलता रहा। जहां केस ज्यादा आ रहे हैं, वहां लोकल कंटेनमेंट पर ध्यान दें। गृह मंत्रालय ने हाल में इससे जुड़ी गाइडलाइंस जारी की हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *