Fri. Aug 19th, 2022

कोरोना संक्रमण के कारण मेदांता अस्पताल में है भर्ती

रोहतक। डेरा सच्चा प्रमुख गुरमीत राम रहीम कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। राम रहीम को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बलात्कार के मामले में 20 साल की सजा काट रहे राम रहीम के सेहत की सूचना मिलते ही उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत उससे मिलने मेदांता अस्पताल पहुंची। राम रहीम को मेदांता के 9वी मंजिल पर 4643 रूम में रखा गया है।
हनीप्रीत ने अपना राम रहीम के अटेंडेंट के रूप में कार्ड बनवाया है। हनीप्रीत रोजाना राम रहीम से मिलने उसके कमरे में जा सकती है। 15 जून तक के लिए हनीप्रीत को राम रहीम की देखभाल के लिए अटेंडेंट का कार्ड दिया गया है। सूत्रों की मानें तो राम रहीम दवाई लेने और टेस्ट करवाने में भी आनाकानी कर रहा है। इससे पहले राम रहीम ने 3 जून को पेट दर्द की शिकायत की थी। रोहतक में पीजीआई अस्पताल में बृहस्पतिवार को मेडिकल चेकअप हुआ। इस दौरान राम रहीम ने पीजीआई में कोविड टेस्ट कराने से मना कर दिया था। सुनारिया जेल अधीक्षक सुनील सांगवान ने बताया कि पीजीआई में राम रहीम की स्थिति से संबंधित सभी जांच नहीं हो सकी। जब इस बारे में एक बड़े सरकारी अस्पताल से संपर्क किया गया, तो उन्होंने कहा कि इस समय कोविड-19 स्थिति के कारण परीक्षण नहीं किए जा रहे हैं।
बाद में जेल अधिकारियों को यह सुझाव दिया गया कि ये टेस्टिंग मेदांता अस्पताल में कराया जा सकता है, जिसके बाद राम रहीम को मेदांता अस्पताल ले जाने की अनुमति दी गई।मेदांता प्रबंधन के मुताबिक राम रहीम को रविवार सुबह करीब 11:30 बजे अस्पताल लाया गया। वहां वरिष्ठ चिकित्सकों की निगरानी में उसकी प्राथमिक स्वास्थ्य जांच की गई। इसके बाद कोरोना जांच हुई, जिसमें वह संक्रमित पाया गया। डॉक्टरों के मुताबिक हार्ट और पेट की जांच रिपोर्ट आने के बाद उसका उपचार किया जाएगा। राम रहीम लंबे समय से ब्लड प्रेशर और डायबिटीज से पीड़ित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *