Wed. Jun 23rd, 2021

नई दिल्ली । संसदीय समितियों का कामकाज फिर शुरू होने वाला है इसमें महत्वपूर्ण मंत्रालयों के काम की समीक्षा होगी। अगले सप्ताह लोक लेखा समिति यानी पीएसी की बैठक बुलाई गई है। सचिवालयों ने इसके लिए आवश्यक इंतजाम करना शुरू कर दिया है। 23 जून को श्रम मामलों की संसदीय समिति की बैठक होगी।
कोरोना की दूसरी लहर के चलते संसदीय समितियों की बैठक नहीं हो पा रही थीं। कुछ सांसदों ने वर्चुअल बैठक कराने की मांग की थी, लेकिन दोनों पीठासीन अधिकारियों ने इससे इनकार कर दिया था। ऐसा संसदीय समितियों की गोपनीयता बहाल रखने के लिए किया गया था।
सुझाव दिया गया कि अगले सत्र में इस बारे में नियमों में संशोधन के लिए चर्चा हो सकती है। विभिन्न मंत्रालयों के कामकाज की समीक्षा के लिए संसदीय समितियों की बैठक बेहद जरूरी है। अब अधिकांश सांसदों, उनके परिवार वालों, स्टाफ और संसद भवन के कर्मचारियों का टीकाकरण हो चुका है। देश भर में लॉकडाउन में भी ढील दी जा रही है। ऐसे में सांसदों को दिल्ली आने में अधिक परेशानी नहीं होगी। इसलिए संसदीय समितियों की बैठकों को दोबारा शुरू करने का फैसला किया गया।
बैठक कब बुलानी है, इस बारे में सदस्यों से विचार विमर्श कर समिति के अध्यक्ष ही निर्णय करते हैं। राज्यसभा तथा लोकसभा सचिवालय इसके लिए आवश्यक व्यवस्था करता है।
कोरोना जैसी आपदा में अपने क्षेत्र के लोगों के साथ खड़े रहने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ने सांसदों की प्रशंसा की है। उन्होंने सभी सांसदों को चिट्ठी में लिखा है कि आपने अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों के साथ समय गुजारा और लोगों के कष्ट करने में मदद की साथ ही वैक्सीन के अभियान को सफलतापूर्वक चलाने में भी योगदान दिया।
स्पीकर ने लिखा है कि कोरोना से लड़ने और टीकाकरण के लिए जागरूकता बढ़ाने में सांसदों ने जो काम किया है, उन अनुभवों को वे पूरे देश के साथ साझा करना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *