Tue. Mar 2nd, 2021

विशेष प्रतिनिधि

गुवाहाटी । असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने आश्वस्त किया है कि राज्य सरकार राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) की अंतिम सूची से बाहर हुए लोगों को कानूनी सहायता मुहैया कराएगी। राज्य सरकार ने अपने बयान में बताया कि मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने यह आश्वासन तब दिया जब असम में विभिन्न बंगाली संगठनों के प्रतिनिधियों ने उन्हें अपनी परेशानियों से अवगत कराया। विज्ञप्ति में बताया गया है कि प्रतिनिधियों ने अपनी मांगों के समर्थन में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को एक ज्ञापन भी सौंपा।
इस ज्ञापन में कहा गया है कि प्रतिनिधिमंडल को समुदाय से जुड़े मुद्दों को सुलझाने के लिए सकारात्मक कदम उठाए जाने का भरोसा देते हुए सोनोवाल ने कहा कि राज्य में नागरिक पंजी की अंतिम सूची से बाहर हो गए लोगों को सरकार कानूनी सहायता मुहैया कराएगी, ताकि वास्तविक भारतीय नागरिक को किसी तरह की कोई समस्या नहीं हो। सोनोवाल ने कहा राज्य में रहने वाले सभी समूह और धड़े सुरक्षित महसूस करें, यह सुनिश्चित करना सरकार का दायित्व है। इस संबंध में सभी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *