Tue. Mar 2nd, 2021

विशेष संवाददाता

मुंबई । चुनाव प्रचार के लिए महाराष्ट्र पहुंचे उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने मुंबई में आयोजित एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मतदाताओं से कहा कि आप कमल के फूल का बटन दबाइए, पाकिस्तान पर परमाणु बम अपने आप गिर जाएगा। उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों पर 21 अक्टूबर को मतदान होना है। चुनाव के नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे।
इस दौरान केशव मौर्य ने यह भी कहा कि लक्ष्मी जी हाथ के फूल पर नहीं बल्कि कमल के फूल पर सवार होकर आती हैं। इसलिए कमल के फूल का बटन दबाइए और भाजपा को जिताइए। ज्ञात हो कि महाराष्ट्र के चुनाव में भाजपा पहली बार शिवसेना के बड़े भाई के रूप में चुनाव मैदान में उतरी है। इस बार विधानसभा की 288 सीटों में से भाजपा 164 और शिवसेना 124 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।
सन 2014 के विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा 110 से 115 सीटों पर चुनाव लड़ती रही है, जबकि शेष सीटों पर शिवसेना अपने उम्मीदवार खड़े करती रही है। सन 2014 का विधानसभा चुनाव में सीटों पर सहमति नहीं बनने के बाद दोनों दलों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था।
इस बार शिवसेना पहले बराबर सीटों पर चुनाव लडऩे पर अड़ी हुई थी, लेकिन जब भाजपा ने उसकी इस मांग को खारिज कर दिया तो शिवसेना ने अपना रुख नर्म करते हुए कम सीटों पर चुनाव लड़ने की बात स्वीकार कर ली। एनडीए के अन्य सहयोगी दलों के उम्मीदवार भाजपा के चुनाव चिह्न पर चुनाव लड़ेंगे। इससे छोटे दलों का महत्व लगभग खत्म हो जाएगा।
शिवसेना भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी है। दोनों दलों के बीच पहली बार साल 1989 के लोकसभा और विधानसभा चुनाव में गठबंधन हुआ था। इसके बाद से विधानसभा और लोकसभा के सभी चुनाव दोनों दलों ने मिलकर लड़े। दोनों ने साल 1995 में मिलकर सरकार बनाई थी। इसमें शिवसेना के मनोहर जोशी मुख्यमंत्री बने थे। यह दोस्ती सन 2014 में सीटों के बंटवारे को लेकर टूट गई। तब भाजपा की ताकत महाराष्ट्र समेत पूरे देश में बढ़ रही थी और पार्टी मोदी लहर के बल पर महाराष्ट्र चुनाव भी जीतना चाहती थी। अकेले चुनाव लड़ कर भाजपा राज्य की सबसे बड़ी पार्टी बनी, लेकिन उसके बाद सरकार बनाने लायक बहुमत नहीं था। इसके बाद दोनों ने गठबंधन में सरकार बाई थी, जिसका नेतृत्व देवेंद्र फड़नवीस कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *