Tue. Apr 13th, 2021

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली । कैब सर्विस ओला ने भारत में कार शेयरिंग सर्विस ओला ड्राइव’ अनाउंस कर दी है। इस सर्विस को शुरुआत में बेंगलुरु के यूजर्स के लिए लाया जाएगा, जिसके बाद हैदराबाद, मुंबई और नई दिल्ली भी इस शुरु किया जाएगा। कंपनी ने अपने बेंगलुरु हेडक्वॉर्टर में इसकी जानकारी देकर बताया कि 2020 तक इस सर्विस में 20,000 कारें होस्ट करने का लक्ष्य रखा गया है। ओला का दावा है कि भारत में उसके पास सबसे बड़ा यूजर बेस है और उसकी कार शेयरिंग सर्विस के 20 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर हो चुके हैं।
पिछले महीने कंपनी ने 2016 में लांच की गई अपनी बाइक सर्विस का विस्तार करने की घोषणा भी की थी। ओला देशभर के 250 से ज्यादा शहरों में उबर को टक्कर दे रहा है और ऑस्ट्रैलिया, न्यूजीलैंज, द यूके जैसे ग्लोबल मार्केट्स तक में मौजूद है। नई ओला ड्राइव सर्विस बेंगलुरु में अलग-अलग लोकेशंस पर मौजूद रेजिडेंशल और कमर्शल हब्स पर बनाए गए पिक-अप स्टेशन पर उपलब्ध होगी। यहां से कस्टमर्स कम से कम 2,000 रुपये का सिक्यॉरिटी डिपॉजिट करके कार पिक कर सकते है। ओला का दावा है कि इसमें सभी सेगमेंट की कारें इसके कनेक्टेड कार प्लैटफॉर्म ओला प्ले के साथ उपलब्ध होंगी, जो 7 इंच टचस्क्रीन वाला इंफोटेनमेंट डिवाइस है। सर्विसे से जुड़ी सभी कारों में जीपीएस, मीडिया प्लैटबैक सपॉर्ट और ब्लूटूथ कनेक्टिविटी कस्टमर्स को आरामदायक एक्सपीरियंस के लिए मिलेगी। इसके साथ ही ओला प्लैटफॉर्म के सपॉर्ट और सेफ्टी फीचर जैसे 24/7 हेल्पलाइन, इमरजेंसी बटन और रियल टाइम ट्रैकिंग भी दे रहा है। इसके अलावा रोडसाइड असिस्टेंस भी कस्टमर्स को जरूरत पड़ने पर मिलेगी।
शुरुआत में इस सर्विस को कुछ वक्त के लिए ही शुरू किया जा सकता है। ओला कस्टमर्स के लिए सेल्फ ड्राइव कार-शेयरिंग एक्सपीरियंस को लेकर आने वाले वक्त में लॉन्ग-टर्म सब्सक्रिप्शन और कॉर्पोरेट लीशिंग भी ऑफर की जा सकती है। कंपनी का कहना है कि यूजर्स की पसंद को समझने के लिए अलग-अलग ड्राइविंग एक्सपीरियंस से जुड़ी रिसर्च भी की गई है। स्टडी की मदद से यूजर्स के पसंदीदा कार मॉडल्स, क्वॉलिटी रिपेयर और मेंटिनेंस स्ट्रक्चर को इसका हिस्सा बनाया गया है। सर्विस में यूजर्स खुद अपने लिए दूरी और फ्यूल से जुड़ा पैकेज डिजाइन कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *