भारतीय टीम जीत से शुरुआत करने उतरेगी

विश्व कप हॉकी

दक्षिण अफ्रीका से होगा मुकाबला

भुवनेश्वर। पुरुष हॉकी विश्व कप में बुधवार को भारतीय हॉकी टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत के साथ ही अपने अभियान की शुरुआत करना चाहेगी। भारतीय टीम का लक्ष्य यहां दूसरी बार विश्वकप जीतना रहेगा। इससे पहले भारतीय टीम ने 1975 में अजित सिंह की कप्तानी में विश्वकप जीता था।
मनप्रीत सिंह की कप्तान में उतरने वाली भारतीय टीम को यहां पूल सी में रखा गया है।
पिछले 43 साल से भारत को विश्व कप नहीं मिला है। विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर बरकरार भारतीय टीम इस बार अपनी जमीन पर किसी भी प्रकार विश्व कप जीतना चाहेगी। भारतीय टीम के कोच हरेन्द्र सिंह ने भी कहा है कि टीम की तैयारियां अच्छी हैं और वह इस बार किसी प्रकार की गलती नहीं करेगी। टीम को घरेलू मैदान के साथ ही प्रशंसकों का भी समर्थन मिलेगा।
हरेंद्र ने कहा, ‘एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में मलयेशिया से मिली हार से हम उबर चुके हैं। खिलाड़ी आक्रामक हॉकी खेल रहे हैं और अच्छे परिणाम दे सकते हैं। इसके लिए हमें मैच दर मैच रणनीति बनानी होगी। अपने देश में खेलने को हम दबाव नहीं बल्कि प्रेरणा के रूप में लेंगे।’
भारतीय टीम में विश्व कप विजेता जूनियर टीम के सात खिलाड़ी हैं। इसके अलावा कप्तान मनप्रीत सिंह, पीआर श्रीजेश, आकाशदीप सिंह और बीरेंद्र लाकड़ा भी टीम में शामिल हैं। ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह को टीम से बाहर किया गया जबकि स्ट्राइकर एस वी सुनील फिटनेस कारणों से बाहर हैं।
वहीं दूसरी ओर मेहमान दक्षिण अफ्रीकी टीम भारत से रैंकिंग में कहीं पीछे है। विश्व स्तर पर भी अगर उसका प्रदर्शन देखा जाये तो भारतीय टीम जीत की प्रबल दावेदार रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *