Fri. Feb 26th, 2021

ऊर्जा मंत्री ने कहा, मैं कभी विदेश यात्र पर नहीं गया

विशेष प्रतिनिधि

लखनऊ । यूपी कांग्रेस ने बिजली विभाग में पीएफ घोटाले को लेकर बुधवार को राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा पर हमला कर कहा कि पीएफ की राशि डीएचएफएल में निवेश करने का मुद्दा केवल भ्रष्टाचार ही नहीं, बल्कि देश की सुरक्षा से भी जुड़ा है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि ऊर्जा मंत्री को बताना चाहिए कि वह सितंबर-अक्टूबर 2017 में दुबई क्यों गए थे और किससे मिले थे? कांग्रेस के आरोपों पर श्रीकांत शर्मा ने कहा कि कांग्रेस निराधार बात कर रही है। उप्र कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, इस बात की जांच होनी चाहिए कि ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा सितंबर अक्टूबर 2017 में दुबई क्यों गये थे और वहां उनकी किन किन लोगों से मुलाकात हुई थी?
इस ट्वीट को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू ने री-ट्वीट किया। लल्लू ने बुधवार को अपने स्वयं के ट्वीट में कहा,बिजली कर्मचारियों के पीएफ की राशि डीएचएफएल में निवेश करने का मुद्दा केवल भ्रष्टाचार ही नहीं, बल्कि देश की सुरक्षा से भी जुड़ा है। ऊर्जा मंत्री बताएं कि वह दुबई क्यों गए थे? किससे मिले थे? गौरतलब है कि यूपी पावर कॉर्पोरेशन के कर्मचारियों की भविष्यनिधि (पीएफ) के करीब 2,600 करोड़ का कथित तौर पर अनियमित तरीके से निजी संस्था डीएचएफएल में निवेश किए जाने का खुलासा हुआ है। योगी सरकार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए सीबीआई जांच की सिफारिश की है। केंद्रीय एजेंसी के जांच अपने हाथ में लेने तक आर्थिक अपराध शाखा इसकी तफ्तीश कर रही है।इसके बाद से ऊर्जा मंत्री विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। दो दिन पहले कांग्रेस प्रवक्ता अशोक सिंह ने ट्वीट कर इस घोटाले को लेकर मंत्री को हटाने की मांग की थी। प्रदेश के ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अपनी प्रतिक्रिया देकर कहा कि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीमान लल्लू मीडिया में प्रसिद्धि के लिए बचकाने और मनगढ़ंत आरोपों पर उतर आए हैं।’’
उन्होंने कहा कि वह आज तक किसी विदेश दौरे पर गए ही नहीं हैं। किस आधार पर लल्लू ऐसा निराधार आरोप लगा रहे हैं। उन्हें लगता है कि अपने झूठ के दम पर वह चर्चा में आ जाएंगे। ऊर्जा मंत्री ने यह बात निजी कंपनी के खर्चे पर दुबई यात्रा करने के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के आरोप के जवाब में कही। उन्होंने कहा कि उनके (लल्लू) नेता छुट्टियां मनाने विदेश आते-जाते रहते हैं। उन्हें हिसाब ही लगाना है तब राहुल गांधी के दौरों का लगाएं कि वह एसपीजी सुरक्षा वाले व्यक्ति होने के बाद भी बिना सुरक्षा गोपनीय तरीके विदेशी दौरों में क्या करते हैं। श्रीमान लल्लू अपनी घटिया राजनीति के चक्कर में सार्वजनिक जीवन की सारी मर्यादाएं लांघ रहे हैं। उन्हें इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।इसके पूर्व, मंगलवार को पीएफ घोटाला मामले में उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन के पूर्व प्रबंध निदेशक एपी मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में सीपीएफ ट्रस्ट और जीपीएफ ट्रस्ट के तत्कालीन सचिव पीके गुप्ता और तत्कालीन निदेशक (वित्त) एवं सह ट्रस्टी सुधांशु द्विवेदी को शनिवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *