Mon. Mar 1st, 2021

विशेष प्रतिनिधि

नई दिल्ली । दिल्ली प्रदूषण पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विशेषज्ञों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद सीएम केजरीवाल ने कहा, पराली को सीएनजी में बदलना तकनीकी और व्यावसायिक रूप से संभव है। केजरीवाल ने कहा कि यह किसानों को रोजगार,अतिरिक्त आय प्रदान करेगा। साथ ही प्रदूषण की समस्या का समाधान करेगा। हालांकि, इस पर काम करने के लिए सभी सरकारों को एक साथ आने की जरूरत है। गौरतलब है कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने मंगलवार को दिल्ली में प्रदूषण की भयावह स्थिति और बिगड़ते वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) को लेकर दिल्ली सरकार व केंद्र सरकार को फटकार लगाई गई थी। केंद्र व दिल्ली सरकार को फटकार लगाकर न्यायमूर्ति एके गोयल की अध्यक्षता वाली ट्रिब्यूनल की प्रधान पीठ ने कहा था कि सरकार इसको नियंत्रित करने में सक्षम क्यों नहीं है? अब हम यहां, वहां दौड़ रहे हैं और कोई प्रभावी प्रयास अभी तक नहीं किया जा रहा है।
ट्रिब्यूनल ने कहा कि केन्द्र सरकार को देश में पराली जलाने की समस्या से निपटने के लिए सर्वोत्तम समाधान खोजना चाहिए। अपनी तरफ से समाधान का सुझाव देकर पीठ ने कहा कि प्रदूषण के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए डॉक्यूमेंटरीज व फिल्म का इस्तेमाल करें। केंद्र ने कोर्ट से कहा कि इमरजेंसी जैसे हालात से निपटने के लिए प्रयास जारी है, जिसकी उच्चतम स्तर पर निगरानी हो रही है। इसमें कहा गया कि धूल से निपटने के लिए पानी के छिड़काव और शहर में हरियाली की जरूरत है। इस पर जवाब देते हुए पीठ ने कहा,ये कदम अच्छी तरह से ज्ञात है और उपाय भी है, लेकिन सवाल ये हैं कि क्या यह सब किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *