Mon. Mar 1st, 2021

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली । संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला से सदन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर बढ़ने वाले कांग्रेस सांसद डीन कुरियाकोस और टीएन प्रतापन को सस्पेंड करने की मांग की है| प्रह्लाद जोशी ने ओम बिड़ला को नियम 374 के तहत टीएन प्रतापन और डीन कुरियकोस के खिलाफ नोटिस दिया है। उन्होंने मांग कि है कांग्रेस सांसद सोमवार को स्मृति ईरानी से बिना शर्त माफी मांगे|अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो नियम 374 के तहत पांच दिन के लिए सस्पेंड किया जााए।
प्रह्लाद जोशी सदन में नियम 374 को पढ़ेंगे और स्पीकर दोनों सांसदो को नेम करेंगे, जिसके बाद दोनों सांसदो को पांच दिन के लिए सदन से सस्पेंड करने की मांग । शुक्रवार को लोकसभा में जब स्मृति ईरानी रेप की घटनाओं पर बोल रही थीं तो कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी और उनके बीच में नोकझोंक हुई| इसके बाद कांग्रेस के दोनों सांसद स्मृति ईरानी की ओर बढ़े। टीएमसी के सांसद सौगात राय ने दोनो सांसदों को रोका। स्मृति ईरानी ने कहा कि आज कुछ पुरुष सांसद सदन में मेरी ओर आ रहे थे, एक सांसद ने तो कहा कि स्मृति ईरानी बोल कैसे सकती है|केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं हैरान हूं। मैं सोमवार को संसद में देखना चाहूंगी कि कैसे महिलाओं को लेकर बोलने पर विपक्ष मुझे सजा देता है|बीजेपी सांसद साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि स्मृति ईरानी जब बोल रही थीं तो कांग्रेस सांसद उनकी (स्मृति ईरानी)ओर बढ़े। वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि हम इसकी निंदा करते हैं। उन्हें माफी मांगनी चाहिए।
इस मुद्दे पर बीजेपी को बाकी दलों का भी साथ मिला है। आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने कहा कि हम संसद में महिलाओं के साथ ऐसा व्यवहार कर रहे हैं ये निंदनीय है। मैं इस घटना की निंदा करता हूं।भगवंत मान ने कहा कि कांग्रेस ने पहले ही कार्रवाई की होती जब वे (सांसद) मार्शल के साथ दुर्व्यवहार किए थे, तब वे शायद आज ऐसा व्यवहार नहीं करते। उन्होंने कहा कि कानून बनाने वाला ही कानून तोड़ेगा तो किस पर भरोसा किया जाए। उधर, कांग्रेस सांसदों की ओर से अधीर रंजन ने स्मृति ईरानी से माफी मांगी है। इस पूरे हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।
इससे पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अधीर रंजन पर हमला किया। उन्होंने कहा कि महिला सम्मान के विषयों को सांप्रदायिक विषय से जोड़ना गलत है। ऐसा दुस्साहस मैंने पहले नहीं देखा। स्मृति ईरानी ने कहा कि बंगाल में पंचायत चुनाव में रेप को सियासी हथियार के रूप में इस्तेमाल किया गया।आज बंगाल के एक सांसद यहां पर मंदिर का नाम ले रहे थे. जिन लोगों ने रेप को राजनीतिक हथियार के रूप में इस्तेमाल किया वो आज भाषण दे रहे हैं।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक सांसद (अधीर रंजन) ने तेलंगााना और उन्नाव की घटना का नाम लिया लेकिन मालदा भूल गए. कांग्रेस सांसदों के हंगामे के बीच स्मृति ईरानी ने कहा कि उन्नाव और तेलंगाना में जो हुआ वो शर्मनाक है और दोषियों को फांसी मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने लोकसभा में महिलाओं के खिलाफ अपराध का मामला उठाया. शून्य काल में उन्होंने कहा एक ओर राम मंदिर बनाया जा रहा है और दूसरी ओर सीता मां को जलाया जा रहा है। अधीर रंजन ने यहां पर हैदराबाद गैंगरेप और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने का मामला उठाया. अधीर रंजन ने कहा कि उन्नाव की पीड़िता 95 फीसदी जल गई है. देश में क्या हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *