Mon. Mar 1st, 2021

विशेष संवाददाता

उन्नाव । उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना से जहां देशभर में उबाल है, वहीं यूपी में भी इस मुद्दे पर सियासी घमासान तेज हो गया है। जिंदा जलाई गई रेप पीड़िता की शुक्रवार देर रात सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई। इसके बाद उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा को लेकर सूबे के तीन मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (एसपी) और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) योगी सरकार को घेरने में लगे हुए हैं। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने जहां एक ओर विधानसभा के बाहर धरना देकर मोर्चा संभाला, वहीं प्रियंका गांधी ने उन्नाव में रेप पीड़िता के परिजनों से मुलाकात की। इस बीच बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने भी दोपहर में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से मुलाकात करने के बाद योगी सरकार पर हमला बोला।
उन्नाव गैंगरेप मामले पर बीएसपी प्रमुख मायावती ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से राजभवन में मुलाकात की। मुलाकात से पहले मायावती ने भी योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार में अब महिलाएं सुरक्षित नहीं है। कोई ऐसा दिन नहीं बीतता जब महिलाओं के खिलाफ अपराध सामने न आते हो। अगर राज्य सरकार अपराधियों पर कार्रवाई नहीं करेगी, तो ऐसी घटनाओं पर रोक नहीं लगेगी। दो दिन के आधिकारिक दौरे पर लखनऊ आईं कांग्रेस महासचिव शनिवार दोपहर उन्नाव पहुंची। यहां पीड़िता के परिजनों से बंद कमरे में मिलकर प्रियंका ने उन्हें न्याय दिलाने का आश्वासन दिया और बाहर आकर योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। प्रियंका ने कहा कि पीड़िता की मौत के लिए योगी सरकार की जिम्मेदारी बनती है।
प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं। पीड़िता के परिवार को पूरे एक साल से प्रताड़ित किया जा रहा था। आरोपियों ने लड़की के पिता को घर में घुसकर बुरी तरह पीटा। प्रियंका ने आरोप लगाया कि आरोपी का परिवार बीजेपी से जुड़ा हुआ है शायद इसलिए उन्हें बचाया जा रहा है। एक तरफ प्रियंका उन्नाव में थीं तो दूसरी ओर यूपी कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता यूपी विधानसभा के सामने प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेसियों की पुलिस से झड़प भी हुई और पुलिस ने उन पर जमकर डंडे भी बरसाए।
प्रियंका उन्नाव गईं तो अखिलेश यादव ने लखनऊ स्थित यूपी विधानसभा के बाहर ही धरना देकर योगी सरकार को कटघरे में लिया। शनिवार दोपहर विधानसभा के गेट नंबर 2 पर अखिलेश यादव एसपी के दूसरे नेताओं के साथ बैठकर धरना दिया। अखिलेश ने उन्नाव रेप केस में सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा, ‘इसी विधानसभा में मुख्यमंत्री ने कहा था कि अपराधियों को ठोक दिया जाएगा। यह भाषा थी लेकिन एक बेटी की जान नहीं बचा सके।’ अखिलेश ने ऐलान किया कि रविवार को यूपी से सभी जिलों में पार्टी की ओर से शोकसभा आयोजित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *