Mon. Mar 1st, 2021

विशेष संवाददाता

उन्नाव । उत्तर प्रदेश के उन्नाव रेप केस की पीड़िता को जिंदा जला दिया गया था। इलाज के दौरान शनिवार को पीड़िता की मौत हो गई। अब उत्तर प्रदेश सरकार ने पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है। साथ ही साथ प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पीड़िता के परिवार को घर देने की भी घोषणा की गई है। मुआवजे के ऐलान के अलावा मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में किए जाने की बात भी कही गई है। बता दें कि रेप पीड़िता के साथ मारपीट के बाद उसे जिंदा जला दिया गया था। हालत बिगड़ने के बाद पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान पीड़िता ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया था।इससे पहले पीड़िता की मौत के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर मंत्री कमल रानी वरुण और स्वामी प्रसाद मौर्य उन्नाव पहुंचे। उन्नाव में यूपी सरकार के मंत्रियों और सांसदों को कांग्रेस नेताओं ने काली पट्टियां दिखाईं। पुलिस के साथ भी प्रदर्शनकारियों की धक्कामुक्की हुई। उधर, राजधानी लखनऊ में यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू खुद भी प्रदर्शन के लिए उतर आए, जिसके बाद पुलिस उन्हें भी पकड़ लिया।
उधर इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो जाने से उनका पूरा परिवार सदमे में है। आखिरी समय में बहन के साथ रहे भाई का बुरा हाल है। अंतिम समय में बहन के और दर्द को याद करके वह भावुक हो जाते हैं। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह बहन के गुनहगारों को सजा दिलवाकर रहेंगे। शनिवार सुबह उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी बहन को नहीं बचा पाया। मैं सरकार और पुलिस से मांग करता हूं कि जब मेरी बहन इस दुनिया मे नहीं रही तो आरोपी को भी मौत मिलनी चाहिए।
उन्नाव रेप मामले पर उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किए। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उन्नाव में रेप पीड़िता के परिजन से मिलने पहुंचीं। वहीं, कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उन्नाव से लेकर लखनऊ तक आक्रामक प्रदर्शन किए। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव भी धरने पर बैठे। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने महिला सुरक्षा को लेकर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *