Mon. Mar 1st, 2021

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली । उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कहना है कि हिंसा किसी भी समस्या का हल नहीं है। नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली के जामिया मिलिया विश्वविद्यालय, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, नदवा विश्वविद्यालय आदि में हिंसा को लेकर उन्होंने कहा कि हमें प्रतिरोधी और विनाशकारी गतिविधियों से दूर रहना चाहिए। हमें ऐसे कार्य करने चाहिए जिससे कि हमारा देश आगे बढ़े। यह बातें उन्होंने नेशनल सेफ्टी अवॉर्ड्स कार्यक्रम में कहीं। उपराष्ट्रपति ने कहा कि हमें किसी भी तरह की प्रतिरोधी और विनाशकारी गतिविधियों से दूर रहना चाहिए और निर्माण पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। हमारे नजरिए में बदलाव होना चाहिए क्योंकि हम आजाद भारत में हैं, यह हमारा अपना भारत है। यदि आप इसे बर्बाद करते हैं तो इसका मतलब है कि आप देश की संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘अगले दिन (रविवार को) कुछ सार्वजनिक परिवहनों को नष्ट कर दिया गया। इसमें किसकी हार हुई? लोगों की और देश की। इसलिए जब किसी कारण के लिए विरोध करें तो नियमशील बने रहें। हमें विनाशकारी नहीं बनना चाहिए। हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *