Sat. Feb 27th, 2021

विशेष संवाददाता

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में स्थिति शांतिपूर्ण है और संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में शुक्रवार को हिंसा की कोई ताजा घटना होने की सूचना नहीं है। शुक्रवार दोपहर में धार्मिक जमावड़े को देखते हुए राज्य के कई हिस्सों में सतर्कता बढ़ा दी गई है। कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी शहर के कई पुलिस संभाग में स्थानीय सामुदायिक नेताओं से मुलाकात करेंगे। नागरिकता कानून के खिलाफ राज्य में 13 से 17 दिसंबर के बीच हिंसक प्रदर्शन हुए थे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अल्पसंख्यक बहुल पार्क सर्कस क्षेत्र में एनआरसी और सीएए के विरोध में सभा करेंगी।
राज्य में पूर्वी रेलवे क्षेत्र में हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए कई ट्रेनें रद्द कर दी गई है। हालांकि कोलकाता से उत्तरी बंगाल और असम जाने वाली ट्रेन सेवाएं आंशिक रूप से बहाल कर दी गई हैं। राज्य सरकार ने बृहस्पतिवार को दक्षिण 24 परगना जिले में बरूईपुर और कैनिंग के अलावा हावड़ा में इंटरनेट सेवा बहाल करने को मंजूरी दे दी थी।अधिकारियों ने बताया कि उत्तर 24 परगना के मालदा, मुर्शिदाबाद, उत्तर दिनाजपुर जिला और बशीरहाट, बारासात में इंटरनेट सेवा पूरी तरह बहाल करने के बारे में बाद में फैसला लिया जाएगा। सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और अफवाह फैलाने के मामले में 600 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *