Mon. Mar 1st, 2021

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून CAA के खिलाफ सोमवार को कांग्रेस पार्टी दिल्ली में धरना प्रदर्शन करेगी। पहले यह धरना रविवार को होने वाला था लेकिन पार्टी ने बाद में इसे 23 दिसंबर को आयोजित करने का फैसला किया। धरना आज राजघाट पर दोपहर 3 बजे से शुरू होगा और रात 8 बजे तक चलेगा। इस प्रदर्शन में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत सभी सीनियर नेता शामिल होंगे। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लोगों से राजघाट पहुंचने की अपील की है। वहीं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी रात 8 तक चलने वाले इस सत्याग्रह धरना में शामिल हो सकती हैं।
कांग्रेस की मांग है कि संविधान और इसके तहत लोगों को मिले अधिकारों की रक्षा की जाए। बता दें कि कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों की तुलना भारत छोड़ो आंदोलन से की है। पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इसे (सीएए) वापस लेने और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) पर आगे नहीं बढ़ने का आग्रह किया।
कांग्रेस ने एनआरसी के संबंध में बयान को लेकर रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए सवाल भी किया था। पूछा था कि क्या उनके और गृह मंत्री मंत्री अमित शाह के बीच सामंजस्य नहीं है या फिर दोनों मिलकर देश को बेवकूफ बना रहे हैं। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा था, ‘साहेब दिल्ली में बोलते हैं कि एनआरसी पर कोई डिस्कशन नहीं हुआ, पर 28 नवंबर को झारखंड चुनाव के घोषणापत्र में बीजेपी एनआरसी लागू करने का वादा करती है।उन्होंने कहा, ‘अब दो बातें बताएं- पहली कि क्या प्रधानमंत्री और गृह मंत्री में सामंजस्य नहीं? दूसरी बात यह कि क्या सत्ता और संगठन के बीच खट-पट है या दोनों मिल कर देश का बेवकूफ बना रहे हैं।दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामलीला मैदान में एक सभा में कहा कि एनआरसी को लेकर अफवाह फैलाई जा रही है, जबकि अभी इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *