Sat. Feb 27th, 2021

विशेष संवाददाता

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध में पूरे देश में जो प्रदर्शन हो रहा है, उसपर मंगलवार को केंद्रीय कैबिनेट में चर्चा हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में मंगलवार को कैबिनेट की बैठक हुई, इस बैठक में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर पर मुहर लगाने का फैसला लिया गया। इसी बैठक में CAA पर चर्चा हुई और जो विरोध प्रदर्शन जारी है, इस पर भी बात की गई।सूत्रों की मानें, तो सरकार की ओर से ये तय किया गया है कि नागरिकता संशोधन कानून पर उनकी ओर से जनता को सच्चाई बताई जाएगी और लोगों से सीधे बात की जाएगी। इस पर जिस तरह से विरोध प्रदर्शन हो रहा है, उसको लेकर कैबिनेट में बात यही हुई है कि ये विरोध कांग्रेस पर ही बाउंस बैक करेगा।
आपको बता दें कि संसद के दोनों सदनों से जब CAA पास हुआ तो उसके बाद से ही देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। पूर्वोत्तर से शुरू हुआ विरोध कई शहरों में फैल गया और उत्तर भारत के कई राज्यों में विरोध के दौरान हिंसा भी देखने को मिली। दिल्ली, लखनऊ, मेरठ, बिजनौर, मुजफ्फरनगर जैसे शहरों में हिंसा के दौरान आगजनी, तोड़फोड़ भी हुई। CAA पर विरोध प्रदर्शन के दौरान देशभर में अभी तक बीस लोगों की मौत हो चुकी है। बता दें कि कांग्रेस पार्टी सड़क से संसद तक इस कानून का विरोध कर रही है। कांग्रेस ने पहले संसद में इस कानून के खिलाफ कांग्रेस ने सदन में वोट किया और सोमवार को राजघाट पर सत्याग्रह भी किया। कांग्रेस की ओर से इस कानून को संविधान के खिलाफ और भारत की मूलआत्मा के खिलाफ बताया गया है।
हालांकि, कांग्रेस पार्टी पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि कांग्रेस और उसके सहयोगी दल इस मुद्दे को लेकर जनता को भ्रमित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस मुस्लिमों में डर पैदा रही है कि CAA-NRC के बाद उन्हें डिटेंशन सेंटर में डाल दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *