Mon. Mar 1st, 2021

विशेष प्रतिनिधि

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया है कि वास्तविक मुद्दों से लोगों का ध्यान बंटाने के लिए वह सीएए व एनआरसी जैसे मुद्दे उठाकर अशांति फैल रही है और सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ रही है। गहलोत ने इस बारे में कई ट्वीट करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा, ‘अब उन्हें सीएए रद्द करना चाहिए और देश को आश्वस्त करना चाहिए कि एनआरसी लागू नहीं की जाएगी।
मुख्यमंत्री ने लिखा है, ‘जब देश भर में लोग सीएए व एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं तो केंद्र सरकार को इस नए कानून को वापस लेना चाहिए था। लेकिन वह एनपीआर लेकर आ गए। देश को गुमराह करने के लिए प्रधानमंत्री एक बात कहते हैं, गृहमंत्री कुछ और कहते हैं। इससे लोगों में केवल डर बढ़ रहा है। गहलोत ने एक ट्वीट में कहा है कि प्रधानमंत्री व गृहमंत्री पहले बिना विचार किए सीएए व एनआरसी ले आए। अब एनपीआर लाकर देश को संकट व अशांति में धकेल दिया है। गहलोत ने लिखा है कि प्रधानमंत्री मोदी को आगे आकर तथ्य व सच्चाई सामने रखनी चाहिए। देश की अर्थव्यवस्था के संकट में होने के संबंध में पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम के बयान का हवाला देते हुए गहलोत ने इसे गंभीर चिंता का विषय बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *