Wed. Feb 24th, 2021

विशेष प्रतिनिधि

नई दिल्ली। नैशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (एनपीआर) और नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस(एनआरसी) को देश के गरीबों पर टैक्स बताने संबंधी राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी ने जोरदार पलटवार किया है। शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने राहुल को साल 2019 का सबसे बड़ा झूठा बताकर कहा कि टैक्स और करप्शन तो कांग्रेस का कल्चर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर उस चीज का विरोध करती है जिससे भ्रष्टाचार पर लगाम लगती है या खत्म होती है।
जावडेकर ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर हमला कर कहा, आज उन्होंने कहा कि एनपीआर गरीब पर टैक्स है। मैं सोच रहा था कि यह टैक्स कहां से आया, एनपीआर तो पॉपुलेशन रजिस्टर है।टैक्स कांग्रेस का कल्चर है जयंती टैक्स, कोयला टैक्स, टू जी टैक्स, जीजाजी टैक्स।’जावडेकर ने कहा कि कांग्रेस हर उस चीज का विरोध करती है, जिससे भ्रष्टाचार पर लगाम लगती है। उन्होंने कहा, ‘भ्रष्टाचार कांग्रेस की राजनीति का एक मात्र आधार है। इसलिए जिन-जिन चीजों से भ्रष्टाचार पर लगाम लगती है या जिनसे भ्रष्टाचार खत्म होती है तो उनका कांग्रेस विरोध करती है।
जावडेकर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने असम में वोट बैंक राजनीति की वजह से अवैध घुसपैठ को बढ़ावा दिया। अवैध घुसपैठियों को संरक्षण देना कांग्रेस का काम है। यह मैं नहीं कह रहा हूं, असम के पूर्व सांसद कीरीप चलिहा ने कहा था कि असम के पूर्व सीएम हितेश्वर सैकिया ने अवैध घुसपैठ को बढ़ावा दिया क्योंकि वह उसे वोटबैंक की राजनीति की नजर से देखते थे। घुसपैठिया आएंगे और कांग्रेस के वोटर बनेंगे, यही कांग्रेस की राजनीति है। कांग्रेस के द्वारा एनपीआर के विरोध का कारण भी यही है।जावडेकर ने कहा कि राहुल गांधी हमेशा झूठ बोलते हैं, अगर 2019 के सबसे बड़े झूठे को चुना जाए तो वह कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी होंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को झूठ बोलना और देश को गुमराह करना बंद कर देना चाहिए। देश ने चुनाव में उन्हें रिजेक्ट किया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘समाज में अस्थिरता पैदा हो और अवैध घुसपैठिया पले-बढ़ें, यही कांग्रेस का मॉडल है। और हर चीज में भ्रष्टाचार हो। इसीलिए राहुल गांधी ने एनपीआर को टैक्स बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *