Mon. Apr 12th, 2021

विशेष प्रतिनिधि

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून CAA  को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को CAA को लेकर अपने अक्खड़पन का भारी खामियाजा उठाना पड़ेगा। इस असंवैधानिक एक्ट को लागू करने के लिए केंद्र सरकार राज्यों को फोर्स नहीं कर सकती। वहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस पूरे मामले पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोला है। उन्होंने पंजाब के लुधियाना में शिवराज सिंह चौहान द्धारा दिए गए बयानों की निंदा की है। पंजाब के सीएम ने कहा कि बीजेपी के अन्य नेताओं की तरह शिवराज सिंह चौहान को भी CAA के नतीजों की कोई भनक नहीं है। वह इसे समझना भी नहीं चाहते।
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान को पता नहीं था कि वे किस बारे में बात कर रहे थे। न ही उन्होंने कानून का अध्ययन करने की जहमत उठाई। कैप्टन अमरिंदर ने कहा कहा कि क्या शिवराज सिंह चौहान को लगता है कि लाखों लोग जिनमें छात्र और युवा शामिल हैं, जो गलियों में उतर आए हैं, जो गोलियों और लाठियों का सामना कर रहे हैं, वे कांग्रेस के समर्थक हैं? क्या वे और बीजेपी के नेता इन प्रदर्शकारियों की आवाजें नहीं सुन रहे हैं। इनमें ऐसे बहुसंख्यक लोग हैं, जिनका कोई वास्ता नहीं है। अमरिंदर सिंह ने कहा कि भारत ने वह देख लिया है, जो शिवराज सिंह चौहान नहीं देख सके। नागरिकता संशोधन अधनियम एक असंवैधानिक कृत्य है। यह भारतीय संविधान के धर्मनिरपेक्ष ढांचे को ध्वस्त करने वाला है। सीएए अब बीजेपी के लिए अहंकार का मुद्दा हो गया है। बीजेपी इससे होने वाले नुकसान को नहीं देखना चाह रही है। राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(एनआरसी) के साथ यह और भी खतरनाक है अमरिंदर सिंह ने कहा कि भारतीय जनता मूर्ख नहीं है। लोगों को दिख रहा है कि सीएए भारत के धर्मनिरपेक्ष का ढांचे को नुकसान पहुंचाया है।भारत इसके लिए बीजेपी और इसके सहयोगियों को कभी माफ नहीं करेगा।
बता दें कि मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को लुधियाना में कहा था कि कांग्रेस और उसके सहयोगी दल CAA के प्रति आम लोगों में भ्रम फैलाकर देश को हिंसा में झोंकने की साजिश कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी बताएं कि सीएए में ऐसा क्या है जिसका वह विरोध कर रही हैं। 10 जनपथ सीएए के विरोध का केंद्र बन चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *