Fri. Apr 23rd, 2021

नई दिल्ली। सुनील सिंह

दिल्ली सरकार की ओर से शिक्षा विरोधी होने का आरोप लगाने पर भाजपा ने मुख्यमंत्री पर पलटवार किया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम मेयर आदेश गुप्ता और विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली सरकार पर पार्किंग व्यवस्था ध्वस्त करने का आरोप लगाया है। भाजपा नेताओं का कहना है कि जिस पार्किंग से सदर बाजार, करोल बाग, पहाड़गंज के व्यापारियों का लाभ होगा, दिल्ली सरकार उसे रुकवाना चाहती है। बताते चलें कि दिल्ली सरकार ने आरोप लगाया था कि भाजपा के इशारे पर डीडीए ने स्कूल की जमीन पार्किंग के लिए दे दी। इस दौरान भाजपा को शिक्षा विरोधी भी बताया था। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के सिविक सेंटर कार्यालय में आयोजित संयुक्त प्रेस कांफ्रेस कर दोनों नेताओं ने कहा कि दिल्ली सरकार के कारण यह वैसे ही एक साल देरी से शुरू हो रही है। विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में एक करोड़ से ज्यादा वाहन है, लेकिन पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। निगम जहां पर पार्किंग बनाने की बात कर रही है, वह जमीन 1912 से निगम के अधिन है। 2010 से वहां सरफेस पार्किंग चल रही है। उन्होंने कहा कि ईदगाह में जो स्कूल चल रहा है उसमें करीब 500 बच्चे पढ़ते है। बच्चों की संख्या के हिसाब से स्कूल के लिए डीडीए की ओर से 1600 वर्गमीटर जगह दी गई है। इस इलाके में पहले से ही 20 स्कूल चलते है जिसमें तीन तो ईदगाह की दीवार से सटकर चल रहे हैं। डीडीए ने दिल्ली सरकार के सलाह पर ही यह जमीन पार्किंग के लिए उपलब्ध कराई है। विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार एक बार फिर सिर्फ जनता के बीच भ्रम फैला रही है। उन्होंने कहा कि जहां पर पार्किंग बनाने की बात हो रही है, उसके आस-पास बड़े बाजार हैं। पार्किंग बनने से व्यापारियों के साथ-साथ वहां आने वाले लोगों को भी फायदा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *