Mon. Apr 12th, 2021

संवाददाता

नई दिल्ली. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र से फिर से चुनाव जीत गए हैं. इस बार उन्होंने बीजेपी के रविंदर सिंह नेगी को हराया. जीतने के बाद मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि, ‘मैं फिर से पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र से विधायक बनकर खुश हूं. बीजेपी ने नफरत की राजनीति करने की कोशिश की, लेकिन दिल्ली के लोगों ने ऐसी सरकार चुनी जो लोगों के लिए काम करती है.उन्होंने आगे कहा कि, ‘ये पटपड़गंज की जनता की जीत है. अलग-अलग सीट पर अलग-अलग मुकाबला था. जनता ने बीजेपी की नफरत की राजनीति को नकार दिया.
‘ बता दें कि आप में नंबर 2 की हैसियत रखने वाले मनीष सिसोदिया की बादशाहत को बीजेपी उम्मीदवार रविंद्र सिंह नेगी ने जबरदस्त चुनौती दी. इस विधानसभा में गुर्जर, ब्राह्मण और उत्तराखंडी के वोटर्स निर्णायक भूमिका में रहते हैं. अगर जातीय समीकरण की बात करें तो यहां पर 18 प्रतिशत ब्राह्मण, 17 प्रतिशत एससी वोटर, 15 प्रतिशत उत्तराखंडी वोटर्स हैं. 8 प्रतिशत पंजाबी, 11 प्रतिशत गुर्जर और 17 प्रतिशत ओबीसी का वोट जिस पार्टी को जाता है उसकी जीत तय मानी जाती है.

बता दें कि पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र के अंतगर्त चार वॉर्ड पड़ते हैं. यह विधानसभा सीट पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र के अंतगर्त आता है. इस विधानसभा में मंडावली, विनोद नगर, मयूर विहार फेज 2 और पटपड़गंज एरिया आते हैं. पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र में लगभग 16 अवैध कॉलोनियां और तीन गांव आते हैं. पटपड़गंज, मंडावली और खिचड़ीपुर गांव इस इलाके में एक अलग पहचान रखते हैं. इस विधानसभा में 50 से अधिक ग्रुप हाउसिंग सोसायटीज, कुछ स्लम का एरिया और कुछ पुनर्वास कॉलोनियां हैं. सिसोदिया यहां से दो बार चुनाव जीत चुके हैं. मनीष सिसोदिया को इस सीट पर पिछली बार बीजेपी के विनोद कुमार बिन्नी से अच्छी टक्कर मिली थी. बिन्नी आम आदमी पार्टी के नेता रहे हैं और 2015 के विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने कारण पार्टी से बगावत कर लिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *