Sun. Feb 28th, 2021

अयोध्या. जनपद में पोंजी कंपनी बनाकर सैकड़ों निवेशकों के करोड़ों रुपए का गबन करने वाला कंपनी का निदेशक आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया. कम समय में लोगों की रकम दोगुना करने का झांसा देकर इसने बहुत से लोगों से ठगी की वारदात को अंजाम दिया था. जनपद पुलिस ने ‘मां मीडिया प्राइवेट लिमिटेड’के निदेशक राहुल मिश्रा को नगर कोतवाली क्षेत्र के रामनगर इलाके से गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है.

लोगों को कैसे-कैसे दिए झांसे
रिपोर्ट के मुताबिक नगर कोतवाली पुलिस को राहुल मिश्रा की तीन अलग-अलग मामलों में तलाश थी. नगर कोतवाली क्षेत्र के कंधारी बाजार इलाका में रहने वाले राहुल मिश्रा ने मां मीडिया हाउस के नाम से एक कंपनी बनाई और कम समय में रकम दुगनी करने का लालच देकर लोगों से रकम उगाही शुरू कर दी. लोगों में भरोसा जताने के लिए उसने शुरू में कुछ समय तक लोगों का पैसा वापस किया और लोगों के पैसे को अपनी ओर से बनाई गई तमाम कंपनियों और कारोबार में लगवाना शुरू कर दिया. कंपनी को चर्चा में लाने के लिए कभी डिजिटल एडवरटाइजिंग का व्यवसाय शुरू किया तो कभी अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त रेस्टोरेंट्स खोल दिया. पकड़े गए आरोपी ने किसी को कम समय में रकम दोगुना करने का झांसा दिया तो किसी से नौकरी दिलाने के नाम पर मोटी रकम वसूल की. कई लोगों से अपने विभिन्न कागजी व्यवसायों में रकम का निवेश करवा लिया.

धीरे-धीरे लोगों को असलियत का एहसास होने लगा तो लोगों ने रकम वापस मांगनी शुरू कर दी. रकम वापस ना देनी पड़े इसके लिए किसी को चेक थमा दिया, तो किसी को डांट-धमकाकर शांत करा दिया. पोंजी कंपनी की ओर से दिए गए चेक जब डिसऑनर हो गए तो लोगों ने कंपनी के निदेशक समेत प्रमोटरों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया. विवाद मारपीट और रकम वापस करने से इनकार के बाद मामला पुलिस में पहुंचा. महाराजगंज थाना क्षेत्र के रेहरवा नारा निवासी भोलेन्द्र प्रताप सिंह ने 11 फरवरी को रिपोर्ट दर्ज कराई कि मां मीडिया हाउस कंपनी के निदेशक राहुल मिश्रा ने इन्वेस्ट कराई गई रकम 37 लाख रुपए हड़प लिये हैं. कंपनी की ओर से दिया गया चेक डिफाल्ट हो गया. वह रकम वापस मांगने पहुंचे तो उनके साथ गाली-गलौज की गई और धमकी दी गई.

नगर कोतवाली और स्वाट की संयुक्त टीम ने पकड़ा
वहीं मंगलवार को थाना क्षेत्र के सआदतगंज बाईपास निवासी विजय लक्ष्मी राय ने शिकायत दर्ज कराई थी कि इन्वेस्ट की गई ढाई लाख की रकम मांगने पर कंपनी के निदेशक राहुल मिश्रा, उसके भाइयों, मां और पत्नी तथा अन्य ने उनके साथ गाली-गलौज की और मारा-पीटा. जबकि लखनऊ आलमबाग निवासी मोहम्मद समीर सिद्दीकी ने निदेशक राहुल मिश्र उसकी पत्नी कविता मिश्र भाई पंकज मिश्र, ग्रुप लीडर आदित्य मोहन व हर्ष जायसवाल के खिलाफ मां मीडिया परिवार लिमिटेड मां वैलनेस हेल्थ केयर प्राइवेट लिमिटेड और आरो वाटर प्लांट मैं निवेश तथा नौकरी दिलाने के नाम पर 4 लाख रुपये ठग लिए. रकम वापस मांगने पर उनके साथ गाली- गलौज की गई और धमकी दी गई. बताया जा रहा है कि ऐसे बहुत से निवेशक हैं जिन्होंने अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं कराया है लेकिन अब वो भी मुकदमा दर्ज कराने कोतवाली पहुंच रहे हैं. इस मामले में जानकारी देते हुए सीओ सिटी अरविंद कुमार चौरसिया ने बताया कि आरोपी को पकड़ने के लिए नगर कोतवाली और स्वाट की संयुक्त टीम लगाई गई थी. टीम ने रामनगर इलाके से कम समय में रकम दुगुना करने का झांसा देकर निवेशकों से करोड़ों की ठगी करने वाले कंपनी के निदेशक नामजद आरोपी राहुल मिश्र को गिरफ्तार किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *