Thu. Apr 22nd, 2021

संवाददाता

नई दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे के दौरान सभी को उम्मीद की भारत और अमेरिका कई समझौतों पर हस्ताक्षर कर सकता है. मंगलवार को दोनों देशों ने 3 समझौता पत्रों पर हस्ताक्षर किये जिसमें से एक समझौता ऊर्जा क्षेत्र से संबंधित है, दूसरा तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौते को अंतिम रूप. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जोर देकर कहा कि दोनों देशों ने अपने संबंधों को समग्र वैश्विक सामरिक गठजोड़ के स्तर पर ले जाने का निर्णय लिया है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप का ऐतिहासिक और भव्य स्वागत हमेशा याद रखा जाएगा . उन्होंने कहा कि अमेरिका और भारत के संबंध सिर्फ दो सरकारों के बीच नहीं हैं, बल्कि लोक केंद्रित हैं . उन्होंने कहा कि यह संबंध, 21वीं सदी का सबसे महत्वपूर्ण गठजोड़ है. राष्ट्रपति ट्रंप ने मादक पदार्थ और इससे जुड़ी समस्याओं से लड़ाई को प्राथमिकता दी है.

दोनों देशों में हुई इन मुद्दों पर चर्चा
1. तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौतों को अंतिम रूप दिया.

2. मादक पदार्थो की तस्करी, मादक पदार्थ से जुड़े आतंकवाद और संगठित अपराध जैसी गम्भीर समस्याओं के बारे में एक नए तंत्र पर भी सहमति बनी.

3. कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से निपटने में सहयोग करने को सहमत हुए

4. तेल और गैस के लिए अमेरिका भारत का एक बहुत महत्वपूर्ण स्त्रोत है. उद्योग 4.0 और 21वीं शताब्दी की अन्य उभरती प्रौद्योगिकी पर भी भारत अमेरिका गठजोड़, नवोन्मेष और उद्यमिता के नए मुक़ाम स्थापित करने जा रहा है.

5. भारतीय पेशेवरों की प्रतिभा ने अमरीकी कंपनियों के प्रौद्योगिकी नेतृत्व को मजबूत किया है.

6. वैश्विक स्तर पर भारत और अमेरिका का सहयोग हमारे समान लोकतांत्रिक मूल्यों और उद्देश्यों पर आधारित है.

7. हिन्द प्रशांत क्षेत्र में नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के लिए अमेरिका का सहयोग विशेष महत्व रखता है.

प्रधानमंत्री मोदी ने मीडिया से कहा, ‘आतंकवाद के समर्थकों को जिम्मेदार ठहराने के लिए आज हमने अपने प्रयासों को और आगे बढ़ाने का निश्चय किया है. आज राष्ट्रपति ट्रंप और मैंने हमारे सम्बन्धों को समग्र वैश्विक सामरिक गठजोड़ के स्तर पर ले जाने का निर्णय लिया है. कुछ ही समय पहले स्थापित हमारा सामरिक ऊर्जा गठजोड़ सुदृढ़ होता जा रहा है और इस क्षेत्र में आपसी निवेश बढ़ा है.’

ट्रंप ने बताया यात्रा को अविस्मरणीय
राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि उनके लिए यह यात्रा अविस्मरणीय, असाधारण और सार्थक रही. भारत में पिछले दो दिन शानदार रहे, विशेष तौर पर मोटेरा स्टेडियम का कार्यक्रम. हमने तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौतों को अंतिम रूप दिया. हमने 5जी दूरसंचार प्रौद्योगिकी, हिंद-प्रशांत में स्थिति पर भी चर्चा की. ट्रंप ने मीडिया के सामने मोदी से कहा, ‘यह मेरे लिये बड़े सम्मान की बात थी. स्टेडियम में करीब सवा लाख लोग थे, मैं समझता हूं कि वे मुझसे अधिक आपके लिये थे. जब भी मैं आपका नाम लेता था, लोगों की हर्षध्वनि सुनाई देती… लोग आपको बेहद पसंद करते हैं.’ प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करते हुए भारत आने के लिये समय निकालने पर उनका आभार व्यक्त किया और उन्हें धन्यवाद दिया. उन्होंने ने कहा भारत और अमेरिका की इस विशेष मित्रता की सबसे महत्वपूर्ण नींव हमारे लोगों से लोगों के बीच संबंध है. चाहे वो पेशेवर हों या छात्र हो, अमेरिका में भारतीय समुदाय का इसमें सबसे बड़ा योगदान रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *