Fri. Apr 23rd, 2021

संवाददाता

नई दिल्ली । मोदी सरकार 2.0 में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी सेनाओं ने आतंकवाद पर पाकिस्तान को सबक सिखाया है। बालाकोट के माध्यम से हमारी सरकार ने उन्हें बता दिया है कि नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादी शिविर आतंकवादियों के लिए अब सुरक्षित ठिकाने नहीं रहे हैं। बालाकोट एयरस्ट्राइक के एक साल होने पर आयोजित कार्यक्रम में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बालाकोट एयरस्ट्राइक ने सीमापार सिद्धांतों को फिर से लिखने के लिए मजबूर किया। साथ ही हमारे संकल्प और क्षमता को भी दिखा दिया। रक्षामंत्री ने कहा कि पिछले कुछ सालों में सुरक्षा को लेकर माहौल बदल गया है। करगिल और सीमापार आतंकवाद की घटनाएं नए तरह के युद्ध का उदाहरण हैं। हाइब्रिड युद्ध आज की वास्तविकता बन गई है। संघर्ष के इस बदलते नए माहौल में कोई स्पष्ट शुरुआत और अंत नहीं है।

पाकिस्तान पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाकर राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान के लिए, भारत के खिलाफ आतंकवाद का रोजगार कम लागत वाला विकल्प है।लेकिन हमारी सेनाओं ने पाकिस्तान को सबक सीखा दिया है।इस मौके पर देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत ने कहा कि अगर हमें अपनी ओर से सौंपे गए कार्यों के लिए तैयार रहना है तो यह महत्वपूर्ण है कि हम हर समय जमीन, हवा और समुद्र के रास्ते विश्वसनीय स्तर पर घुसपैठ पर अंकुश लगाए रखें। इससे हर कर्मचारी को प्रशिक्षित और प्रेरित रखने से निजात मिलती है। रावत ने कहा कि विश्वसनीय निवारण सैन्य नेतृत्व और कड़े फैसले लेने वाले राजनीतिक नेतृत्व से आता है। यह करगिल, उरी हमलों और पुलवामा हमले के बाद तेजी से देखा गया था।

इसके भारतीय वायुसेना के प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा कि एक साल पहले एलओसी के पार पाकिस्तान में बने आंतकी ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाने का मोदी सरकार ने कठिन और साहसिक फैसला किया। भारतीय वायुसेना ने सफलतापूर्वक लक्ष्य पर निशाना साधकर उन आंतकी कैंपों को तबाह भी कर दिया। पाकिस्तान वायुसेना ने हमले का जवाब 30 घंटे बाद बड़ी तैयारी के साथ ऑपरेशन स्विफ्ट रिटोर्ट के द्वारा दिया था लेकिन भारतीय वायुसेना ने पूरा प्रयास किया कि वहां लक्ष्य पर सटीक निशाना न साध सके। वहां हड़बड़ी में थे। उनकी ओर से सिर्फ अपने लोगों को दिखाने के मकसद से ऐसा किया गया। भदौरिया ने कहा कि करगिल के समय में ही हमें विजुअल रेंज मिसाइल क्षमता के मामले में हम पाकिस्तानी वायुसेना से आगे निकल गए थे। भदौरिया ने कहा कि राफेल को शामिल किए जाने के बाद यह स्थिति और बेहतर हो जाएगी। हम एक बार आगे निकल गए,तब इस बढ़त को खत्म होने नहीं देने वाले है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *