Sat. Feb 27th, 2021


नई दिल्ली । पिछले कुछ महीनों में कई ऐसे बैंक फ्रॉड सामने आए हैं, जहां बैंक अधिकारी बनकर जालसाजों ने लोगों को ठग लिया है। बैंक अधिकारी के तौर पर बात करते हुए वह केवाईसी को वैध करने के जरूरत को बताकर ग्राहकों से ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी करने या ओटीपी मांगते हैं और आपका पूरा बैंक खाता खाली कर देते हैं। एसबीआई ने अपने ट्विटर खाते पर ऐसे ही फ्रॉड से अलर्ट रहने लिए कहा है। एसबीआई ने ट्विट में अपने ग्राहकों को कहा कि धोखाधड़ी वाले कॉल या संदेशों से खुद को सुरक्षित रखें। ऐसा कोई भी फ्रॉड होने पर बैंक को तुरंत सूचना दें। एसबीआई बैंक ने फ्रॉड से बचने के लिए सात उपाय बताए हैं। पहला उपाय है कि अपना ओटीपी किसी के साथ साझा न करें। दूसरे रिमोट एक्सेस एप्लीकेशन से बचें। तीसरे अजनबियों के साथ आधार की कॉपी साझा न करें।
इसके अलावा अपने बैंक खाते में अपनी नई सम्पर्क डिटेल अपडेट करें। कुछ-कुछ समय के अंतराल पर अपना पासवर्ड बदलते रहें। अपने मोबाइल और गोपनीय डेटा को किसी के साथ साझा नहीं करें। किसी भी लिंक पर क्लिक करने से पहले एक बार जरूरी विचार करें कि ऐसा करना कितना जरूरी है। एसबीआई के बयान में कहा गया है कि यदि आप अपने बैंक खाते में किसी भी गलत ट्रांजेक्शन को नोटिस करते हैं, तो तुरंत टोल-फ्री कस्टमर केयर नंबर- 18004253800, 1800112211 पर शिकायत दर्ज कराएं और जरूरी होने पर पुलिस के पास रिपोर्ट दर्ज कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *