Tue. Feb 23rd, 2021

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा था कि राज्य में रात्रि कर्फ्यू या फिर लॉकडाउन लागू नहीं किया जाएगा. लेकिन सोमवार शाम को उन्होंने ५ जनवरी तक राज्य में नाईट कर्फ्यू की घोषणा की है। यानि लोगों को क्रिसमस और नए साल के जश्न के लिए संयम बरतना होगा और उन्हें अपने घरों में ही जश्न मनाना होगा. सोमवार को मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर इस संदर्भ में बैठक आयोजित की गई थी जिसमें राज्य के मुख्य सचिव संजय कुमार, मुख्यमंत्री के प्रमुख सलाहकार अजोय मेहता, वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज सौनिक, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव आशिष कुमार सिंह, प्रधान सचिव विकास खारगे, मुंबई महानगर पालिका आयुक्त आय. एस. चहल, मुंबई के पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ. प्रदीप व्यास, वैद्यकीय शिक्षण विभाग के सचिव सौरव विजय, राज्य टास्क फोर्स के अध्यक्ष डॉ. संजय ओक, सदस्य डॉ. शशांक जोशी, डॉ. अविनाश सुपे, डॉ. राहुल पंडित, मुख्यमंत्री के पुणे विभाग के सलाहकार दीपक म्हैसेकर आदि मौजूद थे. बताया गया है कि आज २२ दिसंबर से रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक महानगरपालिका क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया है और यह 5 जनवरी तक लागू रहेगा। वहीं पूरे यूरोप और मध्य पूर्व के सभी यात्रियों के लिए मुंबई हवाई अड्डे पर उतरने के बाद 14 दिनों के लिए क्वारंटाईन करने का निर्णय लिया गया, साथ ही अन्य देशों के यात्रियों के लिए होम क्वारंटाईन करने का निर्णय लिया गया है. मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा है कि ब्रिटेन में कोरोना के नए वायरस के कारण, राज्य में अधिक सावधानी बरती जा रही है और हमें अगले 15 दिनों के लिए और सतर्क रहना होगा। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में पाया गया नया कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है और इसकी घातकता अगले कुछ दिनों में जानी जाएगी, इसलिए महाराष्ट्र आज से हाई अलर्ट पर है। बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों की कड़ी जांच करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूरोप और मध्य पूर्व देशों के लिए यात्रा करने वालों को सूचित किया जाना चाहिए कि क्या वे देश के बाहर गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना के नए वायरस के मद्देनजर राज्य के कलेक्टरों, महानगर पालिका आयुक्त की बैठक आयोजित की जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में होने वाले विवाह समारोहों में कोरोना नियमों का कड़ाई से पालन आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *