Tue. Feb 23rd, 2021

नई दिल्ली। आने वाले कुछ दिनों देश के कई हिस्‍सों में बेहद कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है। खासतौर पर दिल्‍ली-एनसीआर में न्‍यूनतम तापमान में अच्‍छी खासी गिरावट हो सकती है। वहीं, दिसंबर के अंतिम सप्‍ताह में पहाड़ों पर बर्फबारी का अनुमान है, जिसकी वजह पश्चिमी विक्षोभ है। मौसम विभाग के एडिशनल डायरेक्‍टर जनरल आनंद कुमार शर्मा ने बताया कि 22 दिसंबर के बाद 23,24 एवं 25 दिसंबर के आसपास दिल्‍ली-एनसीआर का न्‍यूतनतम तापमान में थोड़ी गिरावट आएगी, जोकि 4 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। उत्‍तर पश्चिमी भारत खासकर पंजाब एवं हरियाणा में कोहरे का काफी असर देखने को मिल सकता है।
मौसम वैज्ञानिक शर्मा ने बताया कि यूपी में फ‍िलहाल कोहरा एवं शीत लहर बनी रहेगी। उन्‍होंने बताया कि 26 दिसंबर के आसपास पहाड़ों पर वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस देखने को मिल सकता है, जिसकी वजह से जम्‍मू-कश्‍मीर, हिमाचल एवं उत्‍तराखंड में बारिश एवं बर्फबारी हो सकती है। पूर्वानुमान है कि 29 दिसंबर के आसपास मौसम सर्द हो सकता है। उनका कहना है कि हम लगातार स्‍थ‍िति पर नजर बनाए हुए हैं।
मौसम विभाग ने स्‍वास्‍थ्‍य दिक्‍कतों संबंधी अपने पूर्वानुमान में कहा है कि बेहद सर्द मौसम के चलते फ्लू, जुकाम होने/नाक बहने या नकसीर जैसी विभिन्न बीमारियों की संभावना बढ़ जाती है, जो आमतौर पर ठंड के लंबे समय तक संपर्क में रहने के कारण होती हैं या बढ़ जाती हैं। साथ ही लोगों को सलाह दी गई है कि कंपकंपी को नजरअंदाज न करें। यह पहला संकेत है कि शरीर गर्मी खो रहा है। वहीं बताया गया है कि ठंड के लंबे समय तक संपर्क में रहने के कारण फ्रॉस्टबाइट हो सकता है, जिससे त्वचा पीली, कठोर और सुन्न हो जाती है, नतीजतन अंगुलियों, पैर की उंगलियों, नाक या कान जैसे शरीर के हिस्सों पर काले रंग के छाले दिखाई देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *