Sat. Feb 27th, 2021

व्हाट्सएप की नई पालिसी का विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। व्हाट्सएप की ओर से नियमों में बदलाव के बाद एक तरफ जहां दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने लोगों को सिग्नल एप यूज करने की सलाह दी है। इसके बाद टाटा स्टील और एस्सार जैसी कई बड़ी कंपनियों को ऑफिस के काम के लिए ग्रुप चैट के लिए व्हाट्सएप का इस्तेमाल ने करने की सलाह दी है। टाटा स्टील ने ई-मेल एडवाइजरी जारी की है। एडवायजरी में कर्मचारियों से व्हाट्सएप पर कोई भी संवेदनशील जानकारी साझा नहीं करने और इस एप पर बिजनेस मीटिंग नहीं करने के लिए कहा गया है। इसके साथ ही कंपनी ने कर्मचारियों को सुझाव दिया है कि वे ऑफिस कम्युनिकेशन के लिए माइक्रोसॉफ्ट सर्विस और माइक्रोसॉफ्ट टीम्स का उपयोग करें।
टाटा स्टील के अलावा एस्सार ग्रुप ने भी अपने कर्मचारियों से कहा है कि वहां ऑफिस के काम के लिए व्हाट्सएप का इस्तेमाल न करें। कंपनी ने बिजनेस मीटिंग्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट टीम्स का उपयोग करने के लिए कहा है। दरअसल व्हाट्सएप नीतियों में बदलाव के बाद कंपनियां नहीं चाहती है कि बिजनेस से जुड़ा कोई भी संवेदनशील मामला पब्लिक डोमैन में लीक हो। हालांकि व्हाट्सएप ने साफ किया है कि अगर कोई ग्राहक नई शर्तों को स्वीकार नहीं करना चाहते, तब भी वे कॉल करने और मैसेज प्राप्त करने में सक्षम होने वाले हैं, लेकिन वे संदेश पढऩे में सक्षम नहीं होने वाले है। इधर व्हाट्सएप का बढ़ता विवाद देख टेलीग्राम के सीईओ ने कहा है कि फेसबुक के पास एक पूरा डिपार्टमेंट इस बात का पता लगाने के लिए बैठा हुआ है कि आखिर टेलीग्राम इतना मशहूर क्यों हो रहा है। उन्होंने कहा कि, लोगों के बीच वॉट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर काफी गुस्सा है क्योंकि सभी जानते हैं कि अंत में उनका डेटा फेसबुक के एड इंजन पर दिखेगा। इसमें कोई दो राय नहीं कि पिछले कुछ सालों से कई लोग व्हाट्सएप छोड़ टेलीग्राम पर स्विच कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *