Mon. May 17th, 2021

भारत में हाइक स्टीकर चैट ऐप के फाउंडर और सीईओ केविन भारती मित्तल ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि आगामी 14 जनवरी को हाइक चैट ऐप को भारत में बंद कर दिया जाएगा और यूजर आसानी से अपना डेटा और चैट बैकअप मेल या अन्य जगहों पर सेव कर सकते हैं। हालांकि, हाइक के दो ऐप वीबे और रश काम करते रहेंगे और लोग इन ऐप्स का इस्तेमाल कर सकेंगे।
हालांकि, इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप हाइक स्टिकर्स को बंद कर दिया जाएगा। हाइक स्टीकर चैट ऐप को साल 2012 में भारत में शुरू किया गया था और बीते 8 साल के दौरान भारत में यह काफी पॉप्युलर हुआ। लेकिन इसकी पॉप्युलैरिटी वॉट्सऐप या अन्य इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप जैसी नहीं हुई और शायद यही कारण है कि हाइक स्टिकर्स चैट ऐप को बंद किया जा रहा है। यह भारत का एकमात्र पॉप्युलर चैट ऐप है और इसके बंद होने के बाद लाखों यूजर्स देसी चैप ऐप के इस्तेमाल से महरूम हो जाएंगे। इस बीच केविन मित्तल वीबे और रश को पॉप्युलर करने में लगे हैं। जहां वीबे एक तरह से सोशल मीडिया ऐप है, वहीं रश मिनी गेम्स ऐप है। केविन मित्तल ने बताया कि हाइक स्टीकर चैट ऐप को 14 जवनरी को रात 11:59 बजे पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा। कंपनी ने अपने यूजर्स को डेटा एक्सपोर्ट करने को लेकर नोटिफिकेशन भी भेज दिए हैं, ऐसे में आप भी हाइक डेटा सेव कर लें तो बेहतर होगा।


हाल के दिनों में वॉट्सऐप प्राइवेसी पॉलिसी से नाराज यूजर्स सिंगल और टेलीग्राम पर शिफ्ट हो रहे हैं। आप भी जल्द से जल्द हाइक का विकल्प ढूंढ लें। अब जबकि हाइक ऐप को बंद किया जा रहा है, ऐसे में आप भी अपने हाइक चैट डेटा और अन्य डेटा को ईमेल पर सेव कर लें। इसके लिए यूजर्स को एक्सपोर्ट चैटस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपसे आपका रजिस्टर्ड नंबर मांगा जाएगा, जिसपर ओटीपी आएगा। इसके बाद यूजर्स से ईमेल आईडी की जानकारी मांगी जाएगी और यह देने पर यूजर्स हाइक के सारे डेटा अपने ईमेल पर सेव कर सकते हैं। बता दें ‎कि देसी इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप हाइक के भारत में एक करोड़ से ज्यादा यूजर्स हैं और यूजर हर दिन आधे घंटे से ज्यादा समय इस पॉप्युलर चैट ऐप पर समय बिताता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *