Mon. Mar 8th, 2021

भारतीय वायुसेना के लिए 73 हल्के लड़ाकू विमान तेजस एमके -1ए तथा 10 तेजस एमके -1 ट्रेनर विमानों की खरीद को मंजूरी दे दी गई। इसमें 45696 करोड़ रुपये का खर्च आएगा जिसमें इसके लिए इंफ्रास्ट्रक्चर के डिजाइन और विकास में होने वाला 1202 करोड़ रुपये का खर्च भी शामिल है। ज्ञात रहे कि लाइट कॉम्‍बेट एमके-1ए वेरिएंट स्‍वदेश में डिजाइन, विकसित और निर्मित किया गया आधुनिक पीढ़ी का फाइटर प्‍लेन है। इसे बेंगलुरु के हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड ने बनाया है।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके तेजस की खरीद से जुड़ी जानकारी दी। उन्‍होंने कहा कि हल्‍के लड़ाकू विमान तेजस आने वाले सालों में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू बेड़े का आधारस्‍तंभ बनने जा रहे हैं। तेजस में ऐसी नई टेक्‍नोलॉजी शामिल हैं, जिसमें से कई का प्रयास भारत में कभी नहीं हुआ।
हल्का लड़ाकू विमान तेजस, क्रिटिकल ऑपरेशन क्षमता के लिए इलेक्‍ट्रानिक रूप से स्‍कैन रडार, बियांड विजुल रेंज मिसाइल, इलेक्‍ट्रानिक वारफेयर सुइट और एयर टू एयर रिफ्यूलिंग जैसी सुविधाओं से सज्जित किया गया है। फिलहाल यह 50 फीसदी देशी है जो बाद में बढ़कर 60 फीसदी हो जाएगा। इस आर्डर से आत्मनिर्भर अभियान को गति मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *