Sat. Feb 27th, 2021

हमारे देश में जितना लोग डिजिटल होने शुरू हुए हैं उतने ही बैंकिंग फ्रॉड्स में भी इजाफा होता जा रहा है। इस तरह के मामले पिछले कुछ वर्षों में ज्यादा सामने आए हैं। सरकार और बैंकों ने यह बीड़ा उठाया कि वो लोगों को साइबर क्राइम के लिए सचेत किया जाएगा। लेकिन फिर भी इस तरह के क्राइम बंद नहीं हो रहे हैं। साइबर क्रिमनल लोगों को लूटने के लिए कई तरीके अपनाते हैं। इन्हीं में से एक ब्रैंड न्यू तरीका है जिसके जरिए साइबर क्रिमिनल्स लोगों को लूट रहे हैं। इस बात की जानकारी गृह मंत्रालय ने जानकारी दी है।

सरकार के एक ट्विटर हैंडल जिसका नाम साइबर दोस्त है, के जरिए लोगों को इस नए तरीके से सचेत किया गया है। मंत्रालय ने लोगों को सचेत किया है कि वो इस तरह की कोई गलती न करें। साथ ही कहा है कि मैसेज में आने वाले किसी भी लिंक को क्लिक न करें। यूजर्स को एक मैसेज भेजा जा रहा है जिसमें लिखा है कि आपके बैंक अकाउंट में नॉमिनी को जोड़ा गया है। आप 30 मिनट में नॉमिनी के खाते में पैसे ट्रांसफर कर पाएंगे। अगर आपने ऐसा नहीं किया है तो इस लिंक पर क्लिक कर आप शिकायत दर्ज कर सकते हैं। आपको बता दें कि इस लिंक पर क्लिक कर हैकर्स आपकी सभी जानकारी चुरा सकते हैं। ऐसे में कभी-भी ऐसे किसी लिंक पर क्लिक न करें क्योंकि कई बार लोग बिना सोचे समझे लिंक पर क्लिक कर देते हैं और हैकर्स उनकी जानकारी हासिल कर लेते हैं। गृह मंत्रालय की तरफ से साइबर दोस्त के जरिए जो ट्वीट किया गया है उसमें इस मैसेज का प्रारूप दिखाया गया है। अगर आपको भी ऐसा कोई मैसेज रिसीव होता है तो इसकी शिकायत तुरंत साइबर क्राइम पुलिस में करें। साथ ही मैसेज में दिए गए किसी भी लिंक पर क्लिक न करें।

हैकर्स यूजर्स को कई तरह के मैसेज भेजते हैं। इनमें यूजर्स को वॉर्निंग देकर या किसी तरह का खतरा बताकर गुमराह करने की कोशिश करते हैं। इन मैसेजेज में लिंक भी दिया होता है जिस पर अगर आप गलती से भी क्लिक करते हैं तो आपकी जानकारी हैकर्स तक पहुंच जाती है। ऐसे में हमेशा यह ध्यान रखें कि जल्दबाजी में कभी भी किसी तरह के लिंक पर क्लिक न करें। आपको हमेशा इस बात पर गौर करना चाहिए कि आपको मैसेज कहां से भेजा गया है। लिंक सुरक्षित है या नहीं यह जानना बेहद आवश्यक है। अगर आपको लिंक में कोई भी दिक्कत लगती है तो आप इसकी शिकायत साइबर क्राइम पुलिस से कर सकते हैं। यूं तो भारतीय यूजर्स ने ऑनलाइन बैंकिंग की तरफ अपना रुझान तभी दिखा दिया था जब कोरोना के दुनिया डिजिटल हो चली थी। लगातार ही ऑनलाइन बैंकिंग का प्रसार बढ़ा है। जहां पहले लोगों को पैसे ट्रांसफर करने के लिए लंबी लाइनों में लगना पड़ता था वहीं, अब चंद क्लिक्स में ही यह काम आसानी से हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *