Sat. Feb 27th, 2021

22 जनवरी तक मुर्गियों के लिए 9 राज्यों (केरल, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश और पंजाब) में और कौओं/ प्रवासी/ जंगली पक्षियों के लिए 12 राज्यों (मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, राजस्थान, जम्मू व कश्मीर और पंजाब) में एविएन फ्लू (बर्ड फ्लू) के प्रकोप की पुष्टि हो गई है। उत्तराखंड के जिले अल्मोड़ा (आरके पुरा, हवालबाघ); गुजरात के जिले सोमनाथ (दोलासा, कोडिनार) से लिए गए मुर्गियों के नमूनों में एविएन फ्लू की पुष्टि हुई है। जम्मू व कश्मीर संघ शासित राज्यों (कुलगाम, अनंतनाग, बड़गाम और पुलवामा) में कौओं; उत्तराखंड की टिहरी रेंज में कलीजी तीतर पक्षी में एविएन फ्लू की पुष्टि हो गई है। हालांकि, राजस्थान के अलवर जिले से लिए गए कौओं के नमूने एविएन फ्लू के लिए निगेटिव पाए गए हैं। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और केरल के प्रभावित केन्द्रों में नियंत्रण और रोकथाम की कार्रवाई (स्वच्छता और विसंक्रमण) की जा रही है। सभी राज्य एविएन फ्लू पर तैयारी, नियंत्रण और रोकथाम के लिए संशोधित कार्य योजना, 2021 के आधार पर सभी राज्यों/ संघ शासित क्षेत्रों द्वारा अपनाए गए नियंत्रण उपायों के संबंध में प्रतिदिन विभाग को सूचनाएं दे रहे हैं। विभाग सोशल मीडिया (ट्विटर, फेसबुक हैंडल्स) सहित कई प्लेटफॉर्म्स के माध्यम से एआई के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए निरंतर प्रयास कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *