Tue. Feb 23rd, 2021

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान (आईआईटी) ने आज एक समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए। इस समझौता ज्ञापन के तहत आईआईटी रुड़की में राजमार्ग अवसंरचना विकास के क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास तथा पठन-पाठन एवं प्रशिक्षण पर केन्द्रित एक प्रोफेसर चेयर जारी रखने पर सहमति हुई।
इस समझौता ज्ञापन पर मंत्रालय के सड़क विकास महानिदेशक और विशेष सचिव इन्‍द्रेश कुमार पांडेय और आईआईटी रुड़की के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर एवं उप-निदेशक प्रोफेसर मनोरंजन परीदा ने हस्‍ताक्षर किए। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय में सचिव गिरि‍धर अरमाने ने इस कार्यक्रम की अध्‍यक्षता की। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय और आईआईडी रुड़की के सहयोग से सड़क क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास गतिविधियां सुदृढ़ होंगी और उम्‍मीद की जाती है कि चेयर प्रोफेसर राजमार्ग अवसंरचना विकास के क्षेत्र में अनुसंधान, विकास और पठन-पाठन के कार्य में समन्‍वय करने के लिए नेतृत्‍व प्रदान करेंगे। रुड़की स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान (आईआईटी) उच्‍च स्‍तरीय प्रौद्योगिकी शिक्षा, इंजीनियरिंग और बेसिक तथा एप्‍लाइड रिसर्च के क्षेत्र में काम करने वाले राष्‍ट्रीय संस्‍थानों में सर्वोच्‍च संस्‍थान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *