Dark Mode
  • Wednesday, 19 June 2024
40 लाख रुपए घूस लेते रंगे हाथों पकड़ाया विधायक का बेटा, 6 करोड़ से अधिक नकद बरामद

40 लाख रुपए घूस लेते रंगे हाथों पकड़ाया विधायक का बेटा, 6 करोड़ से अधिक नकद बरामद

कर्नाटक में चुनाव से पहले बड़ा मामला आया सामने


बैंगलुरु। कर्नाटक में घूसखोरी का एक बड़ा मामला सामने आया है। यहां पर बैंगलुरु जल आपूर्ति और सीवरेज बोर्ड के मुख्य लेखाकार प्रशांत मदल को कर्नाटक लोकायुक्त के अधिकारियों ने 40 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। खास बात है कि पकड़े जाने के बाद लोकायुक्त ने तलाशी अभियान चलाया और प्रशांत के पास से 6 करोड़ से अधिक की नकदी बरामद किया।

 

प्रशांत, चन्नागिरि विधानसभा क्षेत्र से मौजूदा बीजेपी विधायक के. मदल विरुपक्षप्पा के बेटे हैं। इस साल के अंत में कर्नाटक में चुनाव होना है, ऐसे में इस घटना को सत्तारूढ़ भाजपा के लिए एक गंभीर झटके के रूप में देखा जा रहा है। यह घटना ऐसे समय में सामने आई है, जब विपक्ष कर्नाटक की भाजपा सरकार पर 40 फीसदी कमीशन और सरकारी टेंडरों में घूसखोरी को लेकर हमलावर है।

 

बताया जा रहा है कि प्रशांत ने एक टेंडर प्रक्रिया को क्लीयर करने के लिए 80 लाख रुपये रिश्वत की मांग की थी। उन्हें उनके कार्यालय में 40 लाख रुपये स्वीकार करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया। प्रशांत को लोकायुक्त पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और अब दस्तावेजों की जांच कर रही है। कर्नाटक साबुन और डिटर्जेट लिमिटेड को कच्चा माल उपलब्ध कराने के लिए निविदा के आवंटन के संबंध में शिकायत दर्ज की गई थी। प्रशांत के पिता केएसडीएल के अध्यक्ष हैं। अधिकारियों के भाजपा विधायक विरुपक्षप्पा से पूछताछ करने की संभावना है, क्योंकि कच्चे माल की खरीद निविदा के लिए केएसडीएल अध्यक्ष के लिए से रिश्वत का पैसा प्राप्त किया गया था।

 

विधानसभा चुनाव से पहले हुई इस घटना को लेकर बीजेपी को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ सकता है। लोकायुक्त ने कहा कि घूस के तौर पर 81 लाख रुपये मांगे गए थे। व्यक्ति 40 लाख रुपये दे रहा था। प्रशांत ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में वित्तीय सलाहकार भी रहे हैं। एसीबी के बंद होने के बाद उन्होंने लोकायुक्त में शामिल होने के प्रयास किए, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया था। लोकायुक्त ने बताया कि हमने विधायक के कार्यालय से 1.2 करोड़ रुपये बरामद किए, जहां से प्रशांत को पकड़ा गया था। लोकायुक्त पुलिस ने प्रशांत के संजयनगर स्थित डॉलर्स कॉलोनी स्थित आवास का दौरा किया। एक अधिकारी ने कहा कि गुरुवार सुबह प्राथमिकी दर्ज की गई, उसके बाद प्रशांत को पकड़ने का जाल बिछाया गया था।

 

Comment / Reply From

You May Also Like

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!